ताज़ा खबर
 

बीजेपी नेता की अरनब गोस्‍वामी को चुनौती- मेरे पास पूरी सेना है, लड़ना है तो आ जाओ

लाल सिंह ने अरनब पर हमला बोलते हुए कहा कि, 'हम लोग पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए लड़ रहे हैं, लेकिन वहीं कुछ लोग हमारे खिलाफ माहौल बनाने में लगे हुए हैं। ऐसे सभी लोग बकवास कर रहे हैं।'
बीजेपी नेता लाल सिंह और अरनब गोस्वामी।

कठुआ गैंगरेप मामले में पद से बर्खास्त हुए जम्मू-कश्मीर के बीजेपी मंत्री लाल सिंह ने मंगलवार को जम्मू से कठुआ तक रैली निकाली। इस रैली में वह बार-बार यही कहते हुए देख गए कि कठुआ गैंगरेप मामले की जांच सीबीआई को सौंपी जाए और इसमें सबी आरोपियों का नार्को टेस्ट करवाया जाए। इस रैली में वह अंग्रेजी न्यूज चैनल रिपब्लिक टीवी के संपादक अरनब गोस्वामी को निशाना साधते भी देखे गए। रैली में लाल सिंह ने अरनब पर हमला बोलते हुए कहा कि, ‘हम लोग पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए लड़ रहे हैं, लेकिन वहीं कुछ लोग हमारे खिलाफ माहौल बनाने में लगे हुए हैं। ऐसे सभी लोग बकवास कर रहे हैं। वो अरनब गोस्वामी, मुझे नहीं पता वो अपने आप को क्या समझता है। उसे लगता है कि वह मीडिया का चैम्पियन है। मेरे पास भी पूरी एक सेना है, अगर तुम लड़ना चाहते हो तो आ जाओ।’

जम्मू से कठुआ तक निकाली गई अपनी इस रैली में लाल सिंह ने ये भी कहा कि, ‘हमारा मकसद देश में शांति बनाए रखना है। हम दूसरों से लड़ने के लिए नहीं बैठे हैं। हम नहीं चाहते कि लोगों को किसी भी तरह की दिक्कत हो। हम बिना गलती के किसी की कोई भी बात बर्दाश्त कर सकते हैं लेकिन हम इस देश के टुकड़े नहीं होने देंगे। ये हमारी जिम्मेदारी बनती है कि हम देश को बचाने के लिए अपना बलिदान दें।’

बता दें कि सर्वोच्च न्यायालय ने कठुआ गैंगरेप मामले में सोमवार को पीड़ित परिवार और उनकी वकील दीपिका रजावत व अन्य को पर्याप्त सुरक्षा मुहैया करवाने का आदेश दिया है। साथ ही, शीर्ष अदालत ने मामले की सुनवाई चंडीगढ़ स्थानांतरित करने की मांग वाली याचिका पर जम्मू एवं कश्मीर सरकार से जवाब देने को कहा। अदालत ने मामले में अगली सुनवाई 27 अप्रैल को करने का निर्देश दिया है। इससे पहले, सोमवार को सुनवाई शुरू होने पर कठुआ दुष्कर्म और हत्याकांड मामले में सभी आठ आरोपियों को जम्मू एवं कश्मीर के कठुआ में मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के सामने पेश किया गया। जघन्य अपराध के मामले में कथित सरगना सांझी राम समेत सभी आठ आरोपियों को सख्त सुरक्षा के बीच कठुआ में मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी ए. एस. लांगेह के समक्ष पेश किया गया। निचली अदालत में मामले की अगली सुनवाई 28 अप्रैल को होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App