ताज़ा खबर
 

युवक को पीट रही पुलिस का तेजस्वी यादव ने डाला वीडियो, कहा-नीतीश राज में महादलितों का यही हश्र होता है

तेजस्वी ने एक विज्ञप्ति जारी कर कहा, "मुख्यमंत्री आत्ममनन और चिंतन करें कि हर जगह, हर समय और हर क्षेत्र के लोग उनका विरोध क्यों और किसलिए कर रहे हैं?
पुलिस एक युवक को घसीटते हुए ले जाते हुए। (सोर्स-वीडियो ग्रैब/@yadavtejashwi)

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर जोरदार हमला किया है। आरजेडी नेता नीतीश यादव ने अपने ट्विटर अकाउंट में एक वीडियो पोस्ट किया है। इस वीडियो में एक शख्स को पुलिस घसीट कर ले जरा ही है और उसे डंडों से पीट रही है। तेजस्वी यादव ने कहा है कि नीतीश कुमार को समीक्षा यात्रा नहीं क्षमा यात्रा करनी चाहिए। तेजस्वी ने ट्वीट किया, ‘ बिहार में कोई महादलित अगर अपने हक़ की मांग करता है तो नीतीश जी उसका यह हश्र कराते हैं।’ तेजस्वी ने कहा कि बिहार के गरीब नीतीश के छद्म विकास पर पत्थर फेंक रहे हैं नीतीश जी को सोचना चाहिए हर जिले में आमजन उनका विरोध क्यों कर रहे है?’ तेजस्वी यादव ने अपने कई ट्विटर अकाउंट पर कई वीडियो डाला है और मुख्यमंत्री को आत्मचिंतन करने की सलाह दी है। इन वीडियो में गाडियों के काफिले पर लोग पत्थर फेंकते हुए दिख रहे हैं। बता दें कि बिहार के बक्सर जिले के नंदन गांव में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के काफिले पर शुक्रवार को गांव के दलित टोले के गुस्साए लोगों ने पथराव कर दिया था। इस घटना में मुख्यमंत्री को तो चोट तो नहीं लगी, लेकिन एक दर्जन से ज्यादा पुलिसकर्मी घायल हो गए और एक थानेदार का सिर फूट गया।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इन दिनों ‘विकास समीक्षा यात्रा’ के क्रम में राज्य के सभी जिलों का दौरा कर रहे हैं। इस दौरान मुख्यमंत्री धरातल पर जाकर विकास कार्यो को देख रहे हैं और अधिकारियों के साथ समीक्षा कर रहे हैं। इसके अलावा तेजस्वी ने एक विज्ञप्ति जारी कर कहा, “मुख्यमंत्री आत्ममनन और चिंतन करें कि हर जगह, हर समय और हर क्षेत्र के लोग उनका विरोध क्यों और किसलिए कर रहे हैं? मुख्यमंत्री बताएं कि किस असुरक्षा की भावना से ग्रस्त होकर वो शिक्षा, स्वास्थ्य, विकास और रोजगार जैसी अतिजरूरी और गंभीर मसलों को छोड़कर दूसरा राग अलाप रहे हैं?” उन्होंने कहा कि शायद मुख्यमंत्री पर हमले इसलिए तो नहीं हो रहे कि वे भाजपा नेता और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी को अपने साथ लेकर नहीं जाते।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.