scorecardresearch

सीधे कहो, आपके वश में कुछ नहीं है- मान ने ड्रग के खिलाफ साईकिल रैली को दिखाई हरी झंडी तो बग्गा ने ऐसे कसा तंज

भगवंत मान ने संगरूर में नशे के खिलाफ साइकिल रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। भगवंत मान ने इस दौरान कहा कि नशे में फंसे नौजवानों का वह कसूर नहीं मानते हैं क्योंकि बेरोजगारी कारण उनको माहौल ही ऐसा मिल गया।

Tajinder Pal Singh Bagga
भाजपा नेता तजिंदरपाल सिंह बग्गा (फोटो-फाइल)

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने प्रदेश से ड्रग्स को खत्म करने का वादा किया था। सरकार बने हुए काफी दिन बीत चुके हैं और अब भगवंत मान ने संगरूर में नशे के खिलाफ साइकिल रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। भगवंत मान ने इस दौरान कहा कि नशे में फंसे नौजवानों का वह कसूर नहीं मानते हैं क्योंकि बेरोजगारी कारण उनको माहौल ही ऐसा मिल गया। इस पर भाजपा नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने तंज कसते हुए कहा कि साफ-साफ कह दो कि आपके वश का कुछ नहीं है।

तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने ट्विटर पर लिखा कि ‘भगवंत मान जी, जब आप विपक्ष में थे तब ये ड्रामे करते अच्छे लगते थे। अब आप मुख्यमंत्री हैं, अब आप ये बताओ कितने ड्रग तस्करों को गिरफ़्तार किया, कितनों पर एफआईआर दर्ज की, कितना नशा पकड़ा और अगर यही ड्रामे करने हैं सीधा-सीधा कह दो आपके बस में कुछ नहीं है।’

सोशल मीडिया पर लोग इस पर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। दयानंद मिश्रा नाम के यूजर ने लिखा कि ‘सबसे बड़ी हैरत थी, सीएम पद तक पहुंचना। इससे दुनिया तो हैरत में थी ही स्वयं मान साहब भी। अब कहीं भी पहुंचकर ये कंफ्यूज्ड नहीं होंगे, इतना तय है।’ रणजीत चौहान नाम के यूजर ने लिखा कि ‘केजरीवाल को बोलो कि दिल्ली में फ्री दारू का काम बंद करें, एक पर एक फ्री दे रहे हैं।

एक यूजर ने लिखा कि ‘जब विपक्ष में बैठते थे तो बहुत सवाल पूछते थे, अब सवालों का जवाब देना भी तो पड़ेगा। नहीं जवाब आते हैं तो फिर क्यों बैठे हैं कुर्सी पर।’ वरुण सिंह नाम के यूजर ने लिखा कि ‘ये रैली नहीं, अपने कार्यकर्ताओं का सरकारी खर्चे से उनका भरण पोषण है।’ सचिन शर्मा नाम के यूजर ने लिखा कि ‘आम आदमी पार्टी का हिसाब साफ है,  काम कम शोर ज्यादा। चाहे दिल्ली हो या पंजाब, इनके राष्ट्रीय अध्यक्ष कहते है पंजाब से भ्रष्टाचार ख़त्म हो गया १० दिन में, ये तो अलग ही राह पर चलते है।’

बता दें कि पिछले दिनों पंजाब पुलिस तजिंदर पाल सिंह बग्गा को गिरफ्तार करने दिल्ली उनके घर पहुंची थी। आरोप था कि उन्होंने आप के संस्थापक और राष्ट्रीय अध्यक्ष अरविंद केजरीवाल के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी की थी। हालांकि जब पंजाब पुलिस बग्गा को लेकर पंजाब जा रही थी तो हरियाणा पुलिस ने उन्हें रास्ते में ही रोक लिया था।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट