ताज़ा खबर
 

बरखा दत्‍त का ट्वीट- कश्‍मीर में फिर से 90 के दशक जैसे हालात, यूजर्स ने किया ट्रोल

कश्मीर के मुद्दे पर ट्वीट कर पत्रकार बरखा दत्त ट्रोल हो गईं।

पत्रकार बरखा दत्त।

लश्कर-ए-तैयबा कमांडर जुनैद मट्टू के अंतिम संस्कार के दौरान दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले में कई सशस्त्र आतंकवादियों ने बंदूक की सलामी दी थी और अंतिम संस्कार में सैकड़ों लोग भी शामिल हुए। वहीं इस मुद्दे पर ट्वीट करके पत्रकार बरखा दत्त मुश्किल में फंस गईं। बरखा के इस ट्वीट के बाद लोगों को उन्हें ट्रोल करने का मौका मिल गया और फिर कई यूजर्स ने उन पर निशाना साधा। बरखा दत्त ने अपने ट्वीट में कश्‍मीर के हालात को लेकर ट्वीट किया था। ट्वीट में उन्होंने लिखा कि कश्मीर में फिर से 90 के दशक जैसे हालात हो गए हैं। इस ट्वीट के बाद लोगों ने उन पर निशाने साधा। कुछ लोगों ने उन्हें आतंकियों का समर्थक बताया तो कुछ ने उन्हें छद्म धर्मनिरपेक्ष कहा। वहीं कुछ लोगों ने उन्हें ट्रोल करते हुए पूछा कि आप अपने भाई(मट्टू) की मय्यत में नहीं गईं।

बता दें जुनैद मट्टू आंतकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) का कमांडर था। उसके अंतिम संस्कार में सैकड़ों लोग शामिल हुए थे। मट्टू अपने दो सहयोगियों के साथ जिले के अरवनी गांव में बीते शुक्रवार को सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में मारा गया था। उसे खुदवानी गांव में दफनाया गया, जहां सैकड़ों शोक संतप्त लोगों ने मारे गए लश्कर कमांडर के अंतिम संस्कार के लिए नमाज पढ़ी। रपटों में कहा गया है कि कमांडर को दफनाए जाने से पहले लोगों ने अंतिम संस्कार की रस्म के तौर पर चार बार नमाज पढ़ी, जो आसपास के इलाकों और यहां तक कि दक्षिण कश्मीर के अन्य इलाकों से भी आए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App