ताज़ा खबर
 

बाबरी विध्वंस: फराह खान ने लालकृष्ण आडवाणी पर मारा ताना- बुरे कर्म करोगे तो बुरा ही भोगोगे

Babri Masjio-Ram Mandir: ट्वीट में फराह खान ने आडवाणी को देश को विभाजित करने वाला भी बताया है।
फिल्म निर्देशक फराह खान के साथ फराह खान अली। (फोटो सोर्स सोशल मीडिया)

अयोध्या की विवादित बाबरी मस्जिद विध्वंस की घटना को 25 साल पूरे होने के बाद आज (6 दिसंबर) जूलरी डिजाइनर फराह खान अली ने भाजपा ने वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी पर ताना मारा है। मंगलवार (दिसंबर) को ट्वीट कर उन्होंने लिखा, ‘लाल कृष्ण आडवाणी, जिसने अयोध्या में अपनी यात्रा के दौरान भारत को विभाजित करने की दिशा में आग लगा दी थी, उसके बाद बाबरी मस्जिद को तोड़ दिया, जिसने भारत का प्रधानमंत्री बनने का सपना देखा था, वह कुछ भी नहीं बल्कि एक बूढ़ा आदमी है जो टूटे हुए सपनों के साथ रहता है। जब आप अच्छा नहीं करते हैं तो आपके साथ भी अच्छा नहीं होता। #बुरा कर्म।’ फराह खान के इस ट्वीट पर कई यूजर्स ने अपनी प्रतिक्रियाएं भी दी हैं। कई यूजर्स ने उनके ट्वीट के समर्थन में ट्वीट किए जब कुछ यूजर्स ने इसके विपक्ष में अपनी बात कही।

कुशंग जोशी लिखते हैं, ‘भारत की पहचान राम और कृष्ण है ना की बाबर और औरंगजेब से। जो लोग लुटेरों के लिए राम और कृष्ण को मिथ कहते थे वो आज अपना अस्तित्व बचाने के लिए उनके ही मंदिर जा रहे हैं।’ एक अन्य ट्वीट में लिखा गया, ‘कुछ भी किया जाए लेकिन मंदिर तो वहीं बनेगा।’ राजीव लिखते हैं, ‘आप भूल गईं, आडवाणी गृह मंत्री और उप प्रधानमंत्री भी थे। दस साल तक विपक्ष के नेता रहे।’

हर्षनेन अली लिखते हैं, ‘वह भारत के सबसे बड़े दुश्मन हैं। हजारों लोग मारे गए सिर्फ उनकी वजह से। आखिर में ये भारत को एक पिछला धार्मिक राज्य के दिमाग वाला देश बना देता है।’ अनिकेत गुप्त लिखते हैं, ‘लगे हाथ उन लोगों के लिए भी दो मीठे बोल बोल दो जो आतंक को पिछले 70 साल से शह देकर अपनी रोटियां सेक रहे हैं।’