जग्‍गी वासुदेव की सुपरबाइक पर बैठे रामदेव पर हेलमेट लगाना भूले, लोगों ने जमकर लताड़ा - Baba Ramdev makes a super bike ride with jaggi vasudev gets trolled for not wearing helmet - Jansatta
ताज़ा खबर
 

जग्‍गी वासुदेव की सुपरबाइक पर बैठे रामदेव पर हेलमेट लगाना भूले, लोगों ने जमकर लताड़ा

एक यूजर ने कहा कि सब तो ठीक है लेकिन आप लोगों को ट्रैफिक नियम तोड़ने और लोगों के सामने गलत नजीर पेश करने के लिए जुर्माना लगाया जाना चाहिए। वहीं एक यूजर ने कहा कि यह एक सांकेतिक और फैंसी राइड था, इसके लिए हेलमेट जरूरी नहीं है।

डुकाटी बाइक पर बाबा रामदेव को अपने आश्रम की सैर कराते सदगुरु जग्गी वासुदेव (फोटो-TWITTER/@SadhguruJV)

योग गुरु बाबा रामदेव आध्यात्मिक गुरु जग्गी वासुदेव के साथ सैर पर निकले। योग मुद्राओं के दो महारथी जब घुमने निकले तो नजारा देखने लायक था। सुपरबाइक की राइडिंग सीट पर थे सदगुरु जग्गी वासुदेव, जबकि उनके साथ पीछे बैठे थे, बाबा रामदेव। दरअसल बाबा रामदेव कोयम्बटूर स्थित जग्गी वासुदेव के आश्रम में पहुंचे थे। इस दौरान जग्गी वासुदेव बाबा रामदेव को अपने आश्रम के सैर पर ले गये। डुकाटी की इस सुपरबाइक पर दोनों जब फर्राटा भर रहे थे, उस वक्त मजेदार नजारा था। हालांकि इस दौरान दोनों ही बाबा एक गलती कर बैठे। बाइक राइडिंग के दौरान किसी ने भी हेलमेट नहीं पहन रखी थी। लिहाजा सोशल मीडिया पर यूजर्स ने इनको खूब खरी खोटी सुनाई।

इस वीडियो में जग्गी वासुदेव एक कार्यक्रम के दौरान; जिसमें बाबा रामदेव, उनके सहयोगी आचार्य बालकृष्ण और खुद जग्गी वासुदेव बैठ हैं; रामदेव से पूछते हैं कि बाइक पर बैठना कैसा लगा? इसके बाद कुछ देर तक वीडियो क्लिप चलता है। जिसमें दोनों राइडिंग का आनंद ले रहे हैं। फिर बाबा रामदेव मस्ती में इसका जवाब देते हैं। रामदेव कहते हैं कि बाइकिंग के दौरान उन्होंने गुरु जी को कस कर पकड़ा हुआ था, और जो गुरु को कसकर पकड़ेगा वो दुनिया में किसी से नहीं हिलेगा। हालांकि ट्विटर यूजर्स ने बाबा रामदेव और सदगुरु से पूछा कि उनका हेलमेट किधर है? एक यूजर ने कहा कि सदगुरु और बाबा ने हेलमेट क्यों नहीं पहन रखी है। एक यूजर ने लिखा है बाबा आश्रम में चल रहे थे पब्लिक रोड़ पर नहीं। इसके जवाब में एक यूजर ने कहा कि हेल्मेट सिर्फ हाईवे के लिए नहीं है, बल्कि आपकी सुरक्षा के लिए है, आप आश्रम के अंदर भी गिर सकते हैं।

एक यूजर ने कहा कि सब तो ठीक है लेकिन आप लोगों को ट्रैफिक नियम तोड़ने और लोगों के सामने गलत नजीर पेश करने के लिए जुर्माना लगाया जाना चाहिए। वहीं एक यूजर ने कहा कि यह एक सांकेतिक और फैंसी राइड था, इसके लिए हेलमेट जरूरी नहीं है। मंगेश ने फिर से कहा गुरु जी हेलमेट जरूरी है, अगली बार बाइक चलाते वक्त हेलमेट जरूर पहनें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App