ताज़ा खबर
 

आशीष खेतान ने लिखी फेसबुक पोस्‍ट, बताई किन परिस्थितियों में किया पार्टी छोड़ने का फैसला

आशीष खेतान ने कहा कि बीते अप्रैल माह में मैंने दिल्ली डायलॉग और डेवलपमेंट कमीशन छोड़ दिया था ताकि वकालत के पेशे पर ध्यान केंद्रित कर सकूं। वकालत के साथ मैं अपने लेखनी के क्षेत्र में भी वापस लौटूंगा।

आशीष खेतान ने आम आदमी पार्टी छोड़ने की वजह बताई। (Photo: PTI)

आम आदमी पार्टी छोड़ने के बाद आशीष खेतान ने अब सार्वजनिक रूप से इसके पीछे की वजह बताई है। उन्होंने एक फेसबुक पोस्ट लिखकर कहा कि, “मेरे बारे में यह कहा जा रहा है कि किसी सीट पर चुनाव लड़ने की बात पर मैंने पार्टी छोड़ी है, यह पूरी तरह अफवाह है। मैंने काफी सोंच-समझकर यह फैसला लिया है। मैं अपने लीगल पैक्टिस पर ध्यान देना चाहता हूं। इसके साथ ही एक बार फिर लेखनी के क्षेत्र में वापस लौटना चाहता हूं।”

आशीष खेतान ने अपने फेसबुक पोस्ट के माध्यम से कहा कि, “मैं एक पत्रकार हूं, जो हर समय आम लोगों के साथ जुड़ा रहना चाहता है। इसी वजह से समाज में सकारात्मक बदलाव के लिए मैं राजनीति में आने को प्रेरित हुआ। उसके बाद दिल्ली सरकार में शामिल हुआ। पिछले दो सालों से मुझे खुद पर संदेह हो रहा था और एक सवाल बार-बार मेरे मन में आ रहा था कि क्या मैं चुनावी राजनीति में खुद को बनाये रखना चाहता हूं? इस साल की शुरूआत में मैंने अपने परिवार और करीबी दोस्तों के साथ काफी विचार-विमर्श के बाद सक्रिय राजनीति को छोड़ने का फैसला किया। हालांकि, पार्टी और सरकार दोनों कई तरह के संकटों का सामना कर रही थी, इसलिए मैंने एक सही समय का इंतजार किया। मैंने कई मौकों पर पार्टी नेतृत्व को भी अपने फैसले से अवगत करा दिया था।”

आशीष आगे लिखते हैं, ” बीते अप्रैल माह में मैंने दिल्ली डायलॉग और डेवलपमेंट कमीशन छोड़ दिया था ताकि वकालत के पेशे पर ध्यान केंद्रित कर सकूं। वकालत के साथ मैं अपने लेखनी के क्षेत्र में भी वापस लौटूंगा। पार्टी और चुनावी राजनीति से दूर जाने का मेरा व्यक्तिगत निर्णय है। इसे किसी भी तरह से ‘आप’ से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए। मुझे पार्टी, इसके सदस्यों और कार्यकर्ताओं से जो सम्मान मिला है, मैं उसके लिए सदा आभारी रहूंगा। मैं यह भी बता दूं कि किसी सीट पर चुनाव लड़ने की इच्छा की वजह से मैंने पार्टी नहीं छोड़ी है। ये बातें सिर्फ और सिर्फ अफवाह है। पार्टी ने मुझसे आगामी लोकसभा चुनाव लड़ने का आग्रह किया, लेकिन मैंने ही मना कर दिया। एक और चुनाव लड़ने के बाद मैं राजनीति के क्षेत्र में और आगे बढ़ जाता, जो कि इस समय मैं नहीं चाहता हूं। मैं अपने सभी पूर्व-साथी तथा सहयोगियों के उज्जवल भविष्य की कामना करता हूं।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 केरल संकट में ‘राष्ट्रवादी’ परेश रावल ने कितनी दी मदद? यूजर के तंज पर एक्टर ने यूं किया पलटवार
2 डिबेट में कश्मीरी वकील पर भड़कीं एंकर, कहा- जैसे गिलानी के खिलाफ बोलने की बात आई, उड़ गई हवा आपकी
3 शादी के कपड़ों में सड़क पर भागी आई दुल्हन, वजह जानकार आप भी करेंगे तारीफ
IPL 2020 LIVE
X