हरकत करने से होती है बरकत – यूपी चुनाव पर किए गए सवाल पर बोले थे असदुद्दीन ओवैसी, कहा था – एसी में बैठ कर नहीं होती राजनीति

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर असदुद्दीन ओवैसी ने एक न्यूज़ चैनल के इंटरव्यू के दौरान कहा कि यूपी देश का सबसे बड़ा राज्य है और यहां चुनावी हलचल होनी चाहिए।

Uttar Pradesh, Yogi Adityanath
हरकत करने से होती है बरकत – यूपी चुनाव पर किए गए सवाल पर बोले थे ओवैसी (फोटो सोर्स – पीटीआई)

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी इन दिनों यूपी की राजनीति में सक्रिय नजर आ रहे हैं। उत्तर प्रदेश में आने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी में लगे ओवैसी बीजेपी पर जमकर हमला भी बोल रहे हैं। यूपी के कई जिलों में वह लगातार दौरा कर रहे हैं और मुस्लिम वोटर को लुभाने की कोशिश में लगे हैं। उन्होंने हाल में ही दिए गए एक इंटरव्यू के दौरान यूपी इलेक्शन को लेकर पूछे गए एक सवाल पर कहा कि हरकत करने से बरकत होती है। एसी में बैठकर राजनीति नहीं की जाती है।

नवभारत टाइम्स हिंदी न्यूज़ चैनल के एक कार्यक्रम में पहुंचे असदुद्दीन ओवैसी से एंकर सुशांत सिन्हा ने सवाल पूछा था कि जब से आप यूपी की पॉलिटिक्स में आए हैं, बहुत ज्यादा हलचल हो रही है और बहुत ज्यादा चर्चा हो रही है? जितनी चर्चा सपा और बसपा को लेकर नहीं है, उससे ज्यादा चर्चा असदुद्दीन ओवैसी को लेकर है?

इस सवाल के जवाब पर ओवैसी ने कहा था, मैं सबसे पहले आपको करेक्ट कर दूं कि हम लोग यूपी में 2017 के विधानसभा चुनाव भी लड़े थे। हम लोग पिछले 5 साल से यूपी में मेहनत कर रहे हैं। उन्होंने यूपी पंचायत चुनाव का जिक्र करते हुए कहा था, हम लोगों ने उसमें अच्छे नंबर लाए थे। उन्होंने कहा था अब चुनाव है तो हलचल तो करना ही पड़ेगा।

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था, ‘हम लोग हैदराबाद में कहते हैं कि हरकत में बरकत है। जो हरकत करेगा उसे आगे बरकत मिलेगी। कोई एसी के कमरे में बैठकर राजनीति करना चाहेगा तो बात नहीं हो पाएगी। यूपी भारत का सबसे बड़ा प्रदेश है इसलिए हम वहां के चुनाव के लिए मेहनत कर रहे हैं। यूपी की जनता के दिल में हम बसने लगे हैं इसका परिणाम आने वाले विधानसभा चुनाव के बाद आएगा।’

असदुद्दीन ओवैसी यूपी विधानसभा चुनाव की तैयारियों लेकर कुछ दिन पहले कानपुर भी गए थे। जहां उन्होंने मुसलमानों को लेकर कहा था कि अब मुसलमान बैंड बाजा नहीं बजाएंगे। यहां तक कि हर जाति का एक नेता है, लेकिन मुसलमानों का कोई नेता नहीं है। इसके साथ ही ओवैसी ने कहा था कि यूपी के मुस्लिमों को तय करना होगा कि 2022 में वह सिर्फ वोट डालने वाले बनेंगे या नेता बनेंगे। हमें बैंड बाजे वाला नहीं बनना होगा।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट