ताज़ा खबर
 

ओवैसी बोले- PM मोदी अपने महबूब को दे रहे हैं 1500 करोड़ रुपये, मगर बंद पड़ी कंपनियों को 10 करोड़ भी नहीं

ओवैसी ने पीएम मोदी के इस फैसले की आलोचना करते हुए कहा कि "यह पैसा आपका निजी पैसा नहीं है, किससे बूझकर प्रधानमंत्री ने यह पैसा नरेश गोयल को दिया? इस देश में लोकतंत्र है और लोकतंत्र में मनमानी नहीं चल सकती।"

asaduddin owaisiअसदुद्दीन ओवैसी ने जेट एअरवेज बेल आउट पैकेज के मुद्दे पर पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा। (social media grab image/file pic)

भारतीय निजी एअरलाइंस कंपनी जेट एयरवेज इस समय भारी संकट के दौर से गुजर रही है। कंपनी करीब 8000 करोड़ रुपए के कर्ज के बोझ तले दबी है। ऐसे मुश्किल वक्त में सरकार जेट एअरवेज की मदद के लिए आगे आयी है। दरअसल सरकार ने एसबीआई समेत कई सरकारी बैंकों की मदद से जेट एअरवेज को 1500 करोड़ रुपए का बेल आउट पैकेज देने का फैसला किया है और कंपनी के कर्ज को इक्विटी में बदलने के निर्देश दिए हैं। अब सरकार के इस फैसले पर विपक्षी पार्टियों ने निशाना साधना शुरु कर दिया है। ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लमीन (AIMIM) चीफ असदुदीन ओवैसी ने भी एक जनसभा के दौरान इस मुद्दे पर पीएम मोदी और केन्द्र सरकार पर जमकर निशाना साधा।

ओवैसी ने कहा कि “पीएम मोदी ने एसबीआई बैंक के 1500 करोड़ रुपए जेट एअरवेज को दे दिए, जबकि उसका मालिक नरेश गोयल भारत का शहरी भी नहीं है!” एआईएमआईएम चीफ ने सवाल उठाते हुए कहा कि “देश के प्रधानमंत्री ने क्या 1500 करोड़ रुपए कैबिनेट से मंजूर करवाया? देश में मेक इन इंडिया के नाम पर हजारों फैक्ट्रियां बंद हो चुकी हैं, करोड़ो नौजवान बेरोजगार हो गए हैं, क्या आप उन फैक्ट्रियों को खोलने के लिए 10-10 करोड़ रुपए नहीं दे सकते? मगर एअरलाइन की कंपनी और नरेश गोयल इनका महबूब है, नरेश गोयल इनके चाहने वाला है, इसलिए उसे 1500 करोड़ रुपए दे दिए।” ओवैसी ने पीएम मोदी के इस फैसले की आलोचना करते हुए कहा कि “यह पैसा आपका निजी पैसा नहीं है, किससे बूझकर प्रधानमंत्री ने यह पैसा नरेश गोयल को दिया? बाप की जागीर है? इस देश में लोकतंत्र है और लोकतंत्र में मनमानी नहीं चल सकती।”

बता दें कि बीते दिनों कांग्रेस ने भी जेट एअरवेज को बेल आउट पैकेज देने के मुद्दे पर केन्द्र सरकार को घेरा था। मीडिया से बात करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि “भारत के सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक एसबीआई, पीएनबी, केनरा बैंक, सिंडिकेट बैंक और इलाहाबाद बैंक अब जेट एअरवेज को बेल आउट पैकेज देने के लिए पीएम मोदी द्वारा इस्तेमाल किए जा रहे हैं। इससे पहले ओेएनजीसी का 7700 करोड़ रुपए का जनता का पैसा गुजरात स्टेट पेट्रोलियम कॉरपोरेशन को खरीदने में इस्तेमाल किया गया। 38 करोड़ एलआईसी होल्डर की महेनत से कमाए गए 9000 करोड़ रुपए आईडीबीआई बैंक को बचाने में इस्तेमाल किए गए।” उल्लेखनीय है कि एसबीआई और नेशनल इन्वेस्टमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर फंड (NIIF) जेट एअरवेज में एतिहाद एअरवेज के 24 प्रतिशत हिस्से का अधिग्रहण भी करेंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नाम में ‘चौकीदार’ लगाए यूजर ने कहा- चप्‍पल खाने वाली बात न करें! क्रिकेटर ने दिया जवाब
2 अश्विन ने मांगा क्रिकेटर्स के लिए कहीं से भी वोट करने का अधिकार, एक ने पूछा- बड़े स्‍पेशल हो जी?
3 फ्लाइट में नंगे बदन बैठना चाहता था शख्‍स, बोला- हवा अच्‍छे से पास होती है
ये पढ़ा क्या?
X