कासगंज कांड पर असदुद्दीन ओवैसी बोले- पुलिस कस्टडी में होने वाली हत्याओं पर किताब लिख सकती है पुलिस

बसपा सुप्रीमो मायावती ने लिखा कि कासगंज में पुलिस कस्टडी में एक और युवक की मौत अति-दुखद व शर्मनाक है।

Uttar Pradesh, Yogi Adityanath
कासगंज कांड पर असदुद्दीन ओवैसी बोले- पुलिस कस्टडी में होने वाली हत्याओं पर किताब लिख सकती है पुलिस (फोटो सोर्स – पीटीआई)

कासगंज के कोतवाली थाना में पुलिस हिरासत में हुई युवक की मौत पर सियासत भी तेज हो गई है। एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने इस मसले पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से जवाब मांगा है। ओवैसी ने कहा कि इस घटना को आत्महत्या बताया जा रहा है, जबकि सच कुछ और ही है। हिरासत में युवक की मौत पर पुलिसवालों को केवल सस्पेंड किया जाता है, जबकि ऐसे पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार करना चाहिए।

ओवैसी ने कहा, कासगंज पुलिस को किताब लिखनी चाहिए कि कैसे पुलिस की कस्टडी में किसी को मारा जा सकता है। ओवैसी का आरोप है कि पुलिस ने धमकाकर मृतक के पिता से मामला वापस करवाया है। उन्होंने पीड़ित परिवार को मुआवजा देने की मांग करते हुए कहा कि इस केस में शामिल पुलिसवालों को तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

इस मामले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट करके लिखा, कासगंज में अल्ताफ, आगरा में अरुण वाल्मीकि, सुल्तानपुर में राजेश कोरी की पुलिस हिरासत में मौत जैसी घटनाओं से साफ है कि रक्षक भक्षक बन चुके हैं। बीजेपी राज में कानून व्यवस्था पूरी तरह चौपट है। वहीं कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने ट्वीट पर लिखा, क्या उत्तर प्रदेश में मानवाधिकार नाम की कोई चीज बची है?

यूपी में रोज लिखी जा रही ऐसी घटिया स्क्रिप्ट- कासगंज SP के दावे पर पूर्व IAS का तंज, लोग भी ले रहे मजे

समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि, कासगंज में पूछताछ के लिए लाए गए युवक की थाने में मौत का मामला बेहद संदेहास्पद है। लापरवाही के नाम पर कुछ पुलिसवालों का निलंबन सिर्फ दिखावटी कार्रवाई है।

बसपा सुप्रीमो मायावती ने लिखा कि कासगंज में पुलिस कस्टडी में एक और युवक की मौत अति-दुखद व शर्मनाक है। सरकार घटना की उच्चस्तरीय जांच कराकर दोषियों को सख़्त सजा दे तथा पीड़ित परिवार की मदद भी करे।

गौरतलब है कि एक किशोरी को अगवा करने के आरोप में अल्ताफ पुत्र चाहत मियां को पुलिस ने हिरासत में लिया था। बीते मंगलवार को कोतवाली के हवालात में अल्ताफ की मौत हो गई।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट