scorecardresearch

नूपुर शर्मा के नाम पर ‘सर तन से जुदा’ कर देंगे? एंकर अंजना ओम कश्यप के इस सवाल पर भिड़ गए AIMIM के वारिस पठान

कन्हैया लाल हत्याकांड के विषय पर हो रही टीवी डिबेट के दौरान तारेक फतेह ने मदरसों पर कई तरह के सवाल उठाए।

waris pathan| Waris Pathan vs Anjana Om Kashyap| Anjana Om Kashyap Debate|
वारिस पठान (सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

राजस्थान के उदयपुर में कन्हैया लाल हत्याकांड मामले की जांच एनआईए द्वारा की जा रही है। जांच एजेंसियों द्वारा दावा किया गया है कि आरोपियों का कनेक्शन पाकिस्तान के साथ भी है। इसी विषय पर हो रही टीवी डिबेट के दौरान एंकर अंजना ओम कश्यप (Anchor Anjana Om Kashyap) ने AIMIM प्रवक्ता वारिस पठान (Waris Pathan) से बीजेपी से निष्कासित नूपुर शर्मा को लेकर सवाल किया। जिस पर वह भिड़ गए।

समाचार चैनल ‘आज तक’ के कार्यक्रम ‘हल्ला – बोल’ में हो रही डिबेट के दौरान एंकर ने वारिस पठान से पूछा, ‘ जब नूपुर शर्मा का पुतला टांगा गया था, तब ओवैसी से लेकर आप तक कुछ नहीं बोल रहे थे। क्या नूपुर शर्मा के नाम पर सर तन से जुदा कर देंगे?’ वारिस पठान ने जवाब में कहा कि हमने हर घटना का खंडन किया है।

उन्होंने आगे कहा कि हमारी ओर से यह बयान दिया गया कि नूपुर शर्मा को कानून के अनुसार गिरफ्तार किया जाए। इसके साथ वारिस पठान ने कहा, ‘ धर्म संसद में मुसलमानों के खिलाफ आग उगलने वाले यति नरसिंहानंद सहित कई लोगों को पुलिस गिरफ्तार नहीं करती लेकिन उसके बारे में जानकारी देने पर आपके जैसे ही पत्रकार ज़ुबैर को गिरफ्तार कर लिया जाता है।’

इस दौरान अंजना ओम कश्यप ने कहा कि धर्म को बचाने के नाम पर लोगों का गला उतारा जा रहा। इसलिए हम डिबेट कर रहे हैं कि कट्टरता को भारत छोड़ना चाहिए। इसी बीच वारिस पठान एंकर को टोकते हुए कुछ कहने लगे। इस पर चिल्लाते हुए एंकर ने कहा, ‘ आपने अपने 3 मिनट के भाषण में इन दोनों हत्याओं का जिक्र नहीं किया है। आपको जो सूट करता है, आप केवल उस पर ही जवाब देते हैं।’

एंकर द्वारा कही गई इस बात पर वारिस पठान भिड़ गए। उन्होंने ऊंची आवाज में कहा कि आप पीछे करके देखिए, मैंने उदयपुर और अमरावती की घटनाओं का खंडन किया है। वहीं इस डिबेट में मौजूद पाकिस्तान मूल के लेखक तारेक फतह ने मदरसों को लेकर कई तरह के सवाल उठाया। जानकारी के लिए बता दें कि बीजेपी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा एक टीवी चैनल पर पैगंबर मोहम्मद को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। जिस पर उदयपुर के एक व्यक्ति ने उनका समर्थन करते हुए पोस्ट किया था। इसी को लेकर उसकी हत्या कर दी गई।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट