scorecardresearch

लाइव डिबेट के दौरान क्यों घंटा बजाने लगे अनुराग भदौरिया? बोले-महंगाई और बेरोजगारी पर करो बहस

लाइव टीवी पर चर्चा के दौरान बहस करते-करते अचानक सपा प्रवक्ता अनुराग भदौरिया घंटा बजाने लगे।

लाइव डिबेट के दौरान क्यों घंटा बजाने लगे अनुराग भदौरिया? बोले-महंगाई और बेरोजगारी पर करो बहस
सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता अनुराग भदौरिया (फोटो सोर्स – सोशल मीडिया)

अजान और हनुमान चालीसा पर मचे बवाल को लेकर पूरे देश में विवाद खड़ा हो गया है। महाराष्ट्र में सांसद नवनीत राणा और विधायक रवि राणा पर पुलिस ने देशद्रोह का केस भी दर्ज कर दिया है। टीवी चैनल पर लगातार इस मुद्दे पर बहस हो रही है। एक चैनल पर बहस के दौरान सपा प्रवक्ता अनुराग भदौरिया घंटा बजाने लगे और बोले बेरोजगारी और महंगाई पर बहस करो।

न्यूज 18 इंडिया के शो में शामिल हुए मनसे नेता वागीश सारस्वत से पूछा गया कि जो गलत करेगा उस पर तो केस लगेगा तो इसमें गलत क्या है?  इस पर उन्होंने कहा कि “अनुराग भदौरिया जिस तरह चिल्ला-चिल्लाकर जिस तरह बोल रहे हैं, उससे लगता है कि वो अपनी अज्ञानता छुपा रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट का जजमेंट है, हम तो उसे लागू करने की बात कर रहे हैं। हनुमान चालीसा हमारे लिए एक आंदोलन है। यूपी में लाउडस्पीकर बंद हो गया, महाराष्ट्र में भी बंद होगा।”

मनसे नेता ने कहा कि “मैं अनुराग भदौरिया से पूछना चाहता हूं कि कितनी मस्जिदों ने प्रशासन की इजाजत लेकर लाउडस्पीकर बजाया है। इनको पता नहीं है तो मैं बता दूं कि ज्यादातर मस्जिदें अवैध तरीके से लाउडस्पीकर बजाती हैं मिस्टर अनुराग। आपको पता नहीं है,आप चिल्ला-चिल्लाकर किसी की आवाज नहीं बंद कर सकते हैं। आपको अगर इतनी तमीज नहीं तो चुल्लू भर पानी में डूब जाइए। आपको मुद्दे की बात नहीं करते हैं।”

इस पर अनुराग भदौरिया ने कहा कि “प्रभु आपका संतुलन बिगड़ गया है। मैंने आपको कुछ भी नहीं कहा, मैं आपको जानता भी नहीं हूं।” इस दौरान लगातार वागीश सारस्वत और अनुराग भदौरिया में बहस चल ही रही थी कि अचानक सपा प्रवक्ता भदौरिया ने एक घंटा उठाया और बजाते हुए कहा कि “प्रभू शांत हो जाइये, शांत हो जाइये प्रभू। जनता के बारे में सोचो, महंगाई के बारे में सोचो। बेरोजगारी के बारे में सोचो।”

बता दें कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे ने लाउडस्पीकार हटाने की बात कर इस विवाद को फिर शुरू कर दिया था। इसके बाद पूरे देश में लाउडस्पीकर का विरोध शुरू हो गया और अब सुप्रीम कोर्ट के उस फैसले को पालन करवाने की मांग हो रही है, जिसमें लाउडस्पीकर बजाने के पैमाना तय किया गया था। उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में मस्जिदों-मंदिरों से लाउडस्पीकर उतारने का काम भी शुरू हो चुका है।  

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट