अगर 370 हटाने का श्रेय अमित शाह को तो हत्या पर उन्हीं से होगा सवाल – लाइव शो में बोले एंकर, BJP प्रवक्ता ने दिया ऐसा जवाब, ताली बजाने लगे पैनलिस्ट

एंकर सुशांत सिन्हा ने लाइव शो में भाजपा भाजपा प्रवक्ता से कश्मीर में हो रही हिंसा को लेकर पूछा कि अगर घाटी में हुई अच्छी चीजों का श्रेय गृह मंत्री पर जाता है तो हिंसा पर किससे सवाल पूछा जाएगा।

Kashmir, 370 kashmir
अगर 370 हटाने का श्रेय अमित शाह को तो हत्या पर उन्हीं से होगा सवाल – लाइव शो में बोले एंकर (Photo Source – PTI)


पिछले 5 दिन के अंदर कश्मीर में आतंकवादियों ने 7 आम नागरिकों की हत्या कर दी है। इसी विषय पर एक न्यूज़ चैनल पर डिबेट के दौरान एंकर ने भाजपा प्रवक्ता शाजिया इल्मी से सवाल पूछा कि अगर 370 हटाने का श्रेय अमित शाह को तो हत्या पर उन्हीं से होगा सवाल। इस पर भाजपा प्रवक्ता ने ऐसा जवाब दिया कि डिबेट में बैठे पैनलिस्ट ताली बजाने लगे।

टाइम्स नाउ नवभारत चैनल चल रहे एक डिबेट कार्यक्रम के दौरान एंकर सुशांत से सिन्हा ने भाजपा प्रवक्ता शाजिया इल्मी से सवाल पूछा, अगर 370 हटाने… 35A हटाने… एनआईए की कार्यवाही का श्रेय देश के गृह मंत्री को जाता है तो इन हत्याओं पर सवाल भी देश के गृह मंत्री से ही पूछे जाएंगे।

इस सवाल का जवाब देते हुए भाजपा प्रवक्ता ने कहा, वहां जो अब तक भाजपा के 23 नेता की हत्या हुई है। उस पर भी सवाल भाजपा के गृह मंत्री से पूछेंगे? भाजपा सरकार से ही पूछेंगे। भाजपा प्रवक्ता के इस जवाब पर राजनीतिक विश्लेषक सनम शाह ताली बजाने लगते हैं। एंकर सुशांत सिन्हा ने भाजपा प्रवक्ता से पूछा, भाजपा के कार्यकर्ता मारे गए हैं इसलिए गृह मंत्री जवाब नहीं देंगे।

बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि क्या आपको लगता है सरकार ऐसा चाहेगी? सुशांत सिन्हा ने उनकी इस बात पर कहा कि मैं यह नहीं कह रहा हूं कि उन्होंने बीजेपी कार्यकर्ता को मरवा दिया है। मैं कह रहा हूं कि सवाल तो उनसे पूछेंगे न… सवाल उनसे भी पूछेंगे। जानकारी के लिए बता दें कि पिछले 5 दिनों से जम्मू कश्मीर में नागरिकों पर आतंकी हमले बढे हैं।

बता दें कि 2 दिन पहले आतंकवादियों ने एक फार्मासिस्ट माखनलाल बिंद्रू की उनकी दुकान में हत्या कर दी थी। बुधवार को भी आतंकवादियों ने एक ही स्कूल में घुसकर प्रिंसिपल सतिंदर कौर और टीचर दीपक चांद की गोली मारकर हत्या कर दी गई। गौरतलब है कि 2 साल पहले आर्टिकल 370 के तहत जम्मू – कश्मीर के विशेष दर्जे को खत्म कर दिया गया है। आर्टिकल 370 के खत्म होने के बाद आतंकी हमलों में कमी आई है लेकिन नागरिकों पर हमला बढ़ा है।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट