उत्तर प्रदेश में है भय का माहौल; लाइव शो में बोले कांग्रेस नेता, एंकर सुशांत सिन्हा ने कही यह बात

यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस पार्टी अपनी पैठ मजबूत करने के लिए जनता के बीच दिखाई दे रही है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी हर मुद्दे पर योगी आदित्यनाथ सरकार को घेर रही हैं।

Uttar Pradesh, Yogi Adityanath
यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ (फ़ोटो सोर्स – पीटीआई)

यूपी विधानसभा चुनाव के विषय पर हो रही चर्चा के दौरान कांग्रेस नेता रत्नाकर त्रिपाठी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भय का माहौल है। उन्होंने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि इनकी सरकार में घोटाले बहुत हो रहे हैं। पर सामने नहीं आ रहे हैं।

टाइम्स नाउ नवभारत न्यूज़ चैनल पर हुई डिबेट में कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, योगी सरकार में जब पत्रकार दिखाते हैं कि मिड डे मील में खाना गड़बड़ दिया जा रहा है तो उसे NSA के तहत जेल में डाल दिया जाता है। इनकी सरकार में कुछ भी बोलने वालों पर गैंगस्टर लगा दिया जाता है। इस भय भरे माहौल में कैसे जिया जा रहा है।

जवाब में एंकर ने कहा, सभी न्यूज़ चैनल यूपी के नोएडा से चल रहे हैं। कोई भय का माहौल नहीं है, जिनको बनाना होगा वह बनाएंगे। पत्रकार अपना काम कर रहे हैं। लखीमपुर से लेकर हाथरस तक की घटना पर सबने सवाल पूछा है। इस पर कांग्रेस नेता ने कहा, आप हमारी बात सुनिए। सरकार की पैरवी मत करिए।

कांग्रेस नेता की इस बात पर एंकर सुशांत सिन्हा ने कहा, इसे पैरवी नहीं..इसे फैक्ट कहते हैं। प्रियंका गांधी अपने पार्टी के विधायक मुरली मोरवाल के बेटे करण मोरवाल पर लगे रेप के आरोप पर चुप्पी साध लेती हैं? उस पर जवाब नहीं देती हैं। कांग्रेस नेता ने कहा कि उन्होंने इसका जवाब प्रियंका गांधी ने नहीं दिया पर मैं बताता हूं कि इस मामले में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को इस्तीफा दे देना चाहिए।

एंकर ने राजस्थान पर कहा कि इस हिसाब से तो गहलोत सरकार को भी इस्तीफा दे देना चाहिए। क्योंकि राजस्थान तो बलात्कार में नंबर वन है। इसके बाद एंकर और कांग्रेस नेता में तीखी बहस होने लगी। एंकर सुशांत सिन्हा ने कहा, अगर पत्रकारों को डर लगता है तो वह बताएंगे कि उन्हें भय का माहौल लग रहा है। आप क्यों बताएंगे?

गौरतलब है कि यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस पार्टी अपनी पैठ मजबूत करने के लिए जनता के बीच दिखाई दे रही है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी हर मुद्दे पर योगी आदित्यनाथ सरकार को घेर रही हैं।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
अमित शाह के पैर छूने वाले Video पर मंत्री वीके सिंह की सफाई- मीडिया की बदमाशीVK Singh, India EU deal, India EU FTA Deal, FTA deal, European Union
अपडेट