ताज़ा खबर
 

डिबेट में कश्मीरी वकील पर भड़कीं एंकर, कहा- जैसे गिलानी के खिलाफ बोलने की बात आई, उड़ गई हवा आपकी

ईद-उल-अजहा की नमाज में शामिल होने के दौरान जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस अध्यक्ष फारूक अबदुल्ला को कुछ लोगों की बदसलूकी का सामना करना पड़ा। इस मामले पर एक हिंदी समाचार चैनल ने डिबेट रखी। डिबेट में शामिल एक कश्मीरी वकील से एंकर ने कहा कि जैसे गिलानी के खिलाफ बोलने की बात आई तो आपकी हवा उड़ गई।

जम्‍मू-कश्‍मीर के पूर्व मुख्‍यमंत्री फारूक अब्‍दुल्‍ला।

ईद-उल-अजहा की नमाज में शामिल होने के दौरान जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस अध्यक्ष फारूक अबदुल्ला को कुछ लोगों की बदसलूकी का सामना करना पड़ा। इस मामले पर एक हिंदी समाचार चैनल ने डिबेट रखी। डिबेट में शामिल एक कश्मीरी वकील से एंकर ने कहा कि जैसे गिलानी के खिलाफ बोलने की बात आई तो आपकी हवा उड़ गई। समाचार चैनल आजतक पर हुई इस डिबेट में एंकर अंजना ओम कश्यप के अलावा बीजेपी नेता सुधांशु त्रिवेदी, कांग्रेस नेता अखिलेश प्रताप सिंह, सामाजिक कार्यकर्ता शबनम लोन, पीडीपी नेता ठाकुर अभिजीत सिंह और वकील बाबरी कादरी शामिल थे। डिबेट में बाबर कादरी और सुधांशु त्रिवेदी के बीच तीखी बहस देखी गई। सुधांशु त्रिवेदी के द्वारा हुर्रियत नेताओं की फंडिंग संबंधी सवाए उठाए जाने पर बाबर कादरी अपने तर्क रख ही रहे थे कि तभी एंकर ने हुर्रियत नेता सैयद अली शाह गिलानी के बारे में सवाल दाग दिया। बाबर कादरी गिलानी को छोड़ बात को दूसरी ओर मोड़ते दिखे तो एंकर ने कहा, ”उड़ गई हवा आपकी, जैसे ही गिलानी के खिलाफ बोलने की बात आई.. उड़ गई हवा..।”

बता दें कि बुधवार (22 अगस्त) को श्रीनगर स्थित हजरतबल मस्जिद में फारूक अबदुल्ला बकरीद की नमाज अता करने गए थे। उनके अलावा सैकड़ों लोग वहां जमा थे। नमाज शुरू होने से पहले ही भीड़ में से कुछ लोगों ने फारुख अबदुल्ला के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फारूक को धक्का-मुक्की का सामना करना पड़ा और यह भी कहा जा रहा है कि कुछ लोगों ने उनकी तरफ जूते भी उछाले। लोगों के इस बर्ताव के चलते फारूक मस्जिद से जाना पड़ा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हाल में फारूक अबदुल्ला के द्वारा ‘भारत माता की जय’ और ‘जय हिंद’ के नारे लगाए जाने को लेकर वे लोग उनसे खफा थे। फारूक अबदुल्ला हाल में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने के लिए रखी गई सर्वदलीय प्रार्थना सभा में भारत माता की जय और जय हिंद के नारे लगवाए थे। फारूक ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा,  ”मैं डरने वाला नहीं हूं। अगर ये समझते हैं कि इससे आजादी आएगी तो मैं इनको कहना चाहता हूं कि पहले बेगारी, बीमारी और भुखमरी से आजादी पाओ।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App