ताज़ा खबर
 

महिला पैनलिस्‍ट्स उलझीं तो भड़की एंकर, बोलीं- चीखना मेरी आदत नहीं, अब मुझे भी चिल्लाना पड़ेगा

समाचार चैनल आजतक पर हुई एक डिबेट के दौरान जब महिला पैनलिस्ट्स उलझीं तो शो की एंकर अंजना ओम कश्यप बोलीं- ''देखिए कुछ बातें मेरे अधिकार से बाहर हैं और जाकर आप लोगों का न माइक्रोफोन छीन सकती हूं, न कुछ...

Author February 24, 2018 12:37 PM
अंजना ओम कश्यप टीवी चैनल आजतक की जानी मानी एंकर हैं। (फोटो-anjanaomkashyap.com)

दिल्ली के प्रमुख सचिव पर हमले के मामले पर समाचारों चैनलों में जमकर बहसें चल रही हैं। ऐसी ही एक टीवी बहस के दौरान एक एंकर महिला पैनलिस्ट्स पर भड़क गईं। शुक्रवार (23 फरवरी) को समाचार चैनल आजतक पर हुई एक डिबेट के दौरान जब महिला पैनलिस्ट्स उलझीं तो शो की एंकर अंजना ओम कश्यप बोलीं- ”देखिए कुछ बातें मेरे अधिकार से बाहर हैं और जाकर आप लोगों का न माइक्रोफोन छीन सकती हूं, न कुछ… एक बार मैं ऑन एयर फिर से अपने दर्शकों के सामने रिक्वेस्ट कर रही हूं… प्लीज अपने बारे में जवाब दें… नहीं नहीं, नूपुर शर्मा… नूपुर शर्मा… नूपुर शर्मा… नहीं नहीं, दिल्ली पुलिस बदला निकाल रही है ये आरोप है इसमें जवाब दीजिए… दिल्ली पुलिस बदला निकाल रही है… आप मत बोलिये न मैडम… मत बोलिये बीच में… चीखना हमारी आदत नहीं है।” बता दें कि बीजेपी प्रवक्ता नूपुर शर्मा से जब एंकर सवाल पूछ रही थीं तभी आम आदमी पार्टी की प्रवक्ता अलका लांबा बोल पड़ीं थीं, इस पर अंजना ओम कश्यप भड़ गईं और कहने कहने लगीं- ”आप मत बोलिये न मैडम… मत बोलिये बीच में… चीखना हमारी आदत नहीं है।”

एंकर के ऐसा कहने पर अलका लांबा ने कहा- ”तो क्यों चीखती हैं?” अंजना ओम कश्यप ने जवाब दिया- ”क्योंकि आप बीच में बोलती हैं।” अलका लांबा फिर बोलीं- ”गला मत बैठाइये न।” अंजना ओम कश्यप ने फिर जवाब दिया- ”आपको बहुत परेशानी है, आप बीच में लगातार बोलती हैं।” कुछ देर चली तू-तू- मैं-मैं के बाद अंजना ओप कश्यप ने नूपुर शर्मा से फिर से दिल्ली के प्रमुख सचिव को लेकर हो रही पुलिस की कार्रवाई पर सवाल पूछा। उन्होंने पूछा- ”आप लोग बदला निकाल रहे हैं, ऐसे बाकी केसेस की इन्वेस्टिगेशन करती है पुलिस?” इस पर नूपुर शर्मा ने कहा- ”क्यों नहीं होती, आप कैसी बातें कर रही हैं…।”

बता दें कि आम आदमी पार्टी के दो विधायकों अमानतुल्लाह खान और प्रकाश झारवाल पर दिल्ली के प्रमुख सचिव अंशु प्रकाश को पीटने का आरोप लगा है। इस मामले में अदालत में सुनवाई चल रही है। पुलिस ने दोनों ही विधायकों को गिरफ्तार कर लिया था। प्रकाश झारवाल देवली से और अमानतुल्लाह खान ओखला से विधायक हैं। इस मामले को लेकर आम आमदी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया था कि वह जिस प्रकार इस मामले में रुचि ले रही हैं, उस तरह जज लोया की मौत मामले पर क्यों नहीं लेती है? वहीं गुरुवार (22 फरवरी) को अरविंद केजरीवाल के सलाहकार ने प्रमुख सचिव पर हमला मामले में चश्मदीद होने की बात अदालत में कही। उन्होंने इससे पहले दिए अपने बयानों का खंडन किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App