ताज़ा खबर
 

अमित शाह ने चुराया इंदिरा गांधी का नारा? योगेंद्र यादव ने लिये मजे

शाह ने अपने संबोधन में कहा कि विपक्ष चाहता है कि मोदी और बीजेपी हटाओ, लेकिन हमारी पार्टी का एजेंडा है गरीबी, अव्यवस्था और देश से भ्रष्टाचार हटाकर देश को स्थिरता और विकास प्रदान करो।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (फोटो सोर्स- पीटीआई फोटो)

केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली बीजेपी की सरकार के चार साल पूरे हो चुके हैं। चार साल में सरकार ने जनता के लिए क्या किया, सरकार की क्या उपलब्धियां हैं, यह बताने के लिए पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने आज मीडिया को संबोधित किया। अपने संबोधन में शाह ने पीएम मोदी को लेकर कुछ ऐसा कहा, जिसे लेकर स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने उन्हें जमकर ट्रोल कर दिया। दरअसल, शाह ने अपने संबोधन में कहा कि विपक्ष चाहता है कि मोदी और बीजेपी हटाओ, लेकिन हमारी पार्टी का एजेंडा है गरीबी, अव्यवस्था और देश से भ्रष्टाचार हटाकर देश को स्थिरता और विकास प्रदान करो।

शाह के इस बयान को लेकर एक यूजर ने पत्रकार राजदीप सरदेसाई से कहा कि उन्होंने यह बात पहले ही कह दी थी कि बीजेपी ऐसा बयान देगी। यूजर ने लिखा, ‘सरदेसाई को सलाम… तीन महीने पहले आपने कहा था कि बीजेपी इसका सहारा जरूर लेगी कि ‘वो कहते हैं मोदी हटाओ, मैं कहता हूं कि देश बचाओ।’ और आज अमित शाह ने आपका स्लोगन कॉपी कर लिया अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में।’

इस ट्वीट पर सरदेसाई ने कहा, ‘तो अब मुझे लगता है कि मुझे इस स्लोगन का अधिकार मिल जाना चाहिए।’ सरदेसाई के इस ट्वीट पर योगेंद्र यादव ने याद दिलाया कि इस स्लोगन पर किसी और का नहीं बल्कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का हक है। उन्होंने कहा था, ‘निष्पक्षता के साथ कहूं तो इस स्लोगन पर इंदिरा गांधी का अधिकार है! उन्होंने कहा था, ‘वो कहते हैं इंदिरा हटाओ, मैं कहती हूं गरीबी हटाओ।’

आपको बता दें कि अमित शाह ने अपने संबोधन में कहा कि वह उम्मीद करते हैं कि 2019 में लोग फिर से प्रधानमंत्री मोदी को चुनेंगे। इसके साथ ही उन्होंने वादा किया कि तुष्टिकरण की राजनीति को विकास की राजनीति से बदलने वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन(राजग) सरकार 2022 तक सभी को घर मुहैया कराएगी। राजग शासन के चार वर्ष पूरे होने पर सरकार की सफलताओं को गिनाते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा ने ‘तुष्टिकरण, वंशवाद और जाति’ की राजनीति को ‘विकास और प्रदर्शन’ की राजनीति से बदला है।

Next Stories
1 जब ग्राम पंचायत चुनाव में प्रचार करने पहुंचे ‘विराट कोहली’, लोग रह गए दंग..
2 IPL 2018 के इस फ्लॉप खिलाड़ी से कर रहे थे तुलना, अभिषेक बच्चन ने दिया करारा जवाब
3 वीडियो: तेल की बढ़ती कीमत पर बोले केंद्रीय मंत्री- जवाब कैसे दूं, पीएम मोदी से परमिशन नहीं लेकर आया 
ये पढ़ा क्या?
X