scorecardresearch

ये तो शुरू होते ही खत्म हो गये-भाजपा ज्वाइन करते हुए फिसली अजय कोठियाल की जुबान, लोग ऐसे करने लगे खिंचाई

उत्तराखंड के विधानसभा चुनाव में आप की तरफ से मुख्यमंत्री पद के लिए उम्मीदवार रिटा. कर्नल अजय कोठियाल ने भाजपा ज्वाइन कर लिया है। उन्होंने 18 मई को आप संयोजक अरविंद केजरीवाल को अपना इस्तीफ़ा सौंप दिया था।

Ajay Kothiyal|BJP|Aam Admi Party
बीजेपी में शामिल हुए अजय कोटियाल (फोटो सोर्स- एएनआई)

भारतीय जनता पार्टी ने उत्तराखंड में आप को बड़ा झटका दिया है। विधानसभा चुनाव में आप की तरफ से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार रहे कर्नल अजय कोठियाल भाजपा में शामिल हो गए। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की उपस्थिति में रिटा. कर्नल अजय कोठियाल ने पार्टी की सदस्यता ली। हालांकि इसके बाद जब अजय कोठियाल मीडिया को संबोधित कर रहे थे तो उनकी जुबान फिसल गई।

भाजपा की सदस्यता लेने के बाद जब अजय कोठियाल मीडिया से बात करते हुए कहा कि ‘अगर आज इतने अच्छे लड़के AAP पार्टी की युवा टीम में हैं, Sorry BJP की युवा टीम में हैं’। बगल में बैठे पुष्कर सिंह धामी ने अजय कोठियाल को याद दिलाया कि ये भाजपा है, आप नहीं। इसके बाद माफी मांगते हुए अजय कोठियाल ने अपनी आगे की बातें कहीं।

लोगों की प्रतिक्रियाएं: सोशल मीडिया पर अजय कोठियाल से हुई इस गलती का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है और लोग इस पर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। वर्षा नाम की यूजर ने लिखा कि ‘जुबान नहीं फिसली बल्कि सच निकल गया,आप की बीजेपी।’ हृद्यांशु ने लिखा कि ‘जुबान तो फिसलेगी ही ना,जब किसी की झूठी तारीफ कर रहे हैं।’

अवनीश त्रिपाठी ने लिखा कि ‘देर से ही सही लेकिन शानदार निर्णय, चुनाव के पहले आ जाते तो विधायक भी बन जाते।’ ललित शुक्ला ने लिखा कि ‘कर्नल साहब शुरू से ही बीजेपी में थे। वो तो केजरीवाल जी को चूना लगवाना था इसलिए नौटंकी करनी पड़ी।’ प्रकाश नाम के यूजर ने लिखा, ‘जो आदमी खुद का डिसीजन नहीं ले पा रहा है। वह क्या भ्रष्टाचार को मिटाता? जिस आदमी को खुद उत्तराखंड के लोग नहीं जानते, उसको 21 अप्रैल 2021 को संगठन में लाकर मुख्यमंत्री उम्मीदवार बनाया।’

बता दें कि 18 मई को अजय कोठियाल ने आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल को इस्तीफा भेजा था। पत्र में उन्होंने लिखा था कि ‘मैं 19 अप्रैल 2021 में पार्टी में शामिल हुआ था और अब 18 मई 2022 को पार्टी छोड़ रहा हूं। पूर्व सैनिकों, पूर्व अर्ध सैनिकों, बुजुर्गों, महिलाओं, युवाओं और बुद्धजीवियों की भावनाओं को ध्यान में रखकर पद से त्याग पत्र दे रहा हूं।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट