ताज़ा खबर
 

मोदी कहेगा वो सबसे बड़ा हिंदू, मैं खुद को मुसलमान क्यों नहीं बोल सकता: ओवैसी

असदुद्दीन ओवैसी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस पर धर्म की राजनीति करने का आरोप लगाया है।

AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी।

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस पर धर्म की राजनीति करने का आरोप लगाया है। एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘भाजपा कहती है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी हिंदू नहीं हैं। तो कांग्रेसी जवाब में कहते हैं कि वो हिंदू हैं। कांग्रेस राहुल को उच्च दर्जे का हिंदू बताती है। उन्हें ब्राह्मण बताया गया। कांग्रेस कहती है कि राहुल जनेऊधारी हिंदू हैं।’ इस पर ओवैसी ने कहा कि राहुल की एक तस्वीर भी दिखाई गई जिसमें उन्होंने जनेऊ पहना है।

AIMIM चीफ ने अपने भाषण में आगे कहा, ‘राहुल के जवाब में कांग्रेस आरोप लगाती है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिंदू नहीं हैं। तो मोदी जवाब में कहते हैं कि उनसे बड़ा कोई हिंदू नहीं है। मोदी कहते हैं कि वो हिंदू भी हैं और ओबीसी भी हैं। अमित शाह हिंदू नहीं है तो वो भी कहते हैं कि हिंदू हैं।’ अपने संबोधन के दौरान ओवैसी ने कांग्रेस-भाजपा पर हिंदू पार्टी को बढ़ावा देने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा, ‘जब मैं बोलता हूं कि मैं मुसलमान हूं तो मुझसे पूछा जाता है कि तुम क्यों मुसलमान-मुसलमान बोलते हो। लेकिन वो खुद हिंदू की बात करते हैं। जनेऊधारी की बात की जाती है। मोदी कह सकते हैं कि वो सबसे बड़े हिंदू और ओबीसी हैं। अमित शाह जैन होकर खुद को हिंदू कहते हैं। लेकिन अगर ओवैसी बोलता है कि मैं मुसलमान हूं तो कहते हैं तुम ऐसा नहीं बोल सकते।’

अपने संसदीय क्षेत्र हैदराबाद में जनता को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा, ‘कांग्रेस और भाजपा दलितों और आदिवासियों तक क्या संदेश पहुंचाना चाह रही है। क्या इन पार्टियों का यह संदेश है कि वे कमतर हैं और ये महान हैं। इनका सेक्यूलरिज्म और सबका साथ सबका विकास एक झूठ है। यह बरदाश्त नहीं किया जा सकता है। डॉ भीमराव आंबेडकर ने यही रास्ता दिखाया था कि कोई कहे कि वह एक जनेऊ धारी हिन्दू है और कोई कहे कि वह ओबीसी है और हिन्दू है, या फिर कोई कहे कि वह जैन है लेकिन हिन्दू है। ओवैसी ने कहा कि क्या स्वतंत्रता सेनानियों ने इसी के लिए अपनी कुर्बानी दी थी?’

ओवैसी ने कहा कि तीन तलाक पर केंद्र सरकार कानून बनाने जा रही है। वहीं उन्होंने पूछा कि शरिया में क्यों दखल दे रही है केंद्र सरकार। एआईएमआईएम अध्यक्ष ने कहा कि राजपूतों के प्रदर्शन के बाद सरकार ने पद्मावती फिल्म का प्रदर्शन रोक दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App