क्या आप भारतीय हैं? पूछे जाने पर टीवी एंकर पर भड़के फारूख अब्दुल्ला, बोले- आपको मनोचिकित्सक की जरूरत - Agenda aajtak 2017 Former CM Farooq abdullah shout on Anchor Punya prasoon vajpayi when he asked him that r u indian see video - Jansatta
ताज़ा खबर
 

क्या आप भारतीय हैं? पूछे जाने पर टीवी एंकर पर भड़के फारूख अब्दुल्ला, बोले- आपको मनोचिकित्सक की जरूरत

अब्दुल्ला ने कहा "आपको यह हक किसी ने नहीं दिया है कि आप मुझसे पूछे कि मैं हिन्दुस्तानी हूं या नहीं।"

Author नई दिल्ली | December 2, 2017 5:06 PM
एंकर पुण्य प्रसून वाजपयी द्वारा कश्मीर मुद्दे को लेकर फारूख अब्दुल्ला से एक के बाद एक कई सवाल पूछे जा रहे थे। (Photo Source: Video Grab)

जम्मू एंड कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला द्वारा एजेंडा आजतक 2017 के कार्यक्रम में एंकर पर भड़कने का मामला सामने आया है। एंकर पुण्य प्रसून वाजपयी द्वारा कश्मीर मुद्दे को लेकर फारूख अब्दुल्ला से एक के बाद एक कई सवाल पूछे जा रहे थे। एंकर ने इसी बीच अब्दुल्ला से पूछ लिया कि क्या आप हिंदुस्तानी हैं? एंकर के इस सवाल पर अब्दुल्ला भड़क गए और उन्होंने एंकर को जवाब देते हुए कहा “क्या आपको इस पर शक है। अफसोस तो यह है कि आपको अपने हिंदुस्तानी होने पर शक है लेकिन मुझे नहीं है।”

उन्होंने कहा “आपको यह हक किसी ने नहीं दिया है कि आप मुझसे पूछे कि मैं हिन्दुस्तानी हूं या नहीं। आपके दिमाग में बार-बार यह बात क्यों आती है। आपके दिमाग में बीमारी पैदा हो गई है इसलिए आपको मनोचिकित्सक की जरूरत है। मुझे कोई चुनौती नहीं दे सकता।” कश्मीर मुद्दे पर बात करते हुए अबदुल्ला ने कहा कि यह मसला बिना बातचीत के कभी हल नहीं होगा। बोली से बात बनती है गोली से नहीं। पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर पर बात करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा वे हमारे कश्मीर पर कब्जा करने के लिए आए थे लेकिन क्या हुआ आज भी उनके टैंक भारत की कई रियासतों में खड़े हैं।

अबदुल्ला ने कहा ” न ही वे अभी तक हमारा कश्मीर ले पाए और न ही हम पाकिस्तान के कब्जे वाला। जब उनकी तरफ से सीजफायर होता है तो हमारे सरहद पर रहने वाले लोग और फोजी भी मरते हैं और जब यहां से होता है तो उनके भी मरते हैं। क्या मिला, बर्बादी के सिवा कुछ मिला क्या? कब तक वतन की बर्बादी देखते जाएंगे? हमें कब होश आएगा कि इस मुद्दे को हल करने के लिए रास्ता ढूंढना है लेकिन युद्ध से कोई रास्ता नहीं निकलेगा। सरकार को बातचीत कर इस मसले का हल निकालना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App