ताज़ा खबर
 

पीएम नरेंद्र मोदी का मजाक उड़ाने वाले कॉमेडियन को खाली करना पड़ेगा घर, फेसबुक पर निकाली भड़ास

कुणाल ने लिखा "मेरे पास आपके लिए कॉमेडी के लिए कोई भी सालह नहीं है। मैं केवल आपसे कुछ चीजें शेयर करना चाहता हूं जो मैंने अनुभव की हैं। एक कॉमेडियन के तौर पर राजनीतिक राय देना आपको महंगा पड़ सकता है।"

Author नई दिल्ली | January 25, 2018 8:06 PM
कॉमेडियन कुणाल कामरा। (Photo Source: Facebook@kunalkamra)

कुणाल कामरा स्टैंड अप कॉमेडी का जाना-माना नाम है। स्टैंड अप कॉमेडी उस समय किसी कॉमेडियन के लिए परेशानी खड़ी कर सकती है जब आप किसी लोकप्रिय राजनेता को लेकर मजाक उड़ा रहे हों। कुणाल भी ऐसी ही कॉमेडियन्स में एक हैं, जो कि मुश्किल में पड़ गए हैं। कुणाल का एक वीडियो बहुत ही शेयर किया गया था जिसमें वे नोटबंदी, राष्ट्रभक्ति और देशभक्ति को लेकर मजाक उड़ाते हुए नजर आए थे। उन्होंने प्रधानमंत्री का भी मजाक उड़ाया था और अपने जोक्स से यह भी बताया था कि कैसे राजनेता अपने एजेंडा के लिए सेना का इस्तेमाल करते हैं। इस तरह किसी राजनेता का मजाक उड़ाना कुणाल कामरा को भारी पड़ गया है।

प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी का मजाक उड़ाने वाले इस कॉमेडियन को अब कमरा खाली करना पड़ेगा। कुणाल ने अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट के जरिए दावा किया है कि सत्ता में रहने वालों का मजाक उड़ाने की सजा उन्हें कमरा खाली करके मिल रही है। कुणाल ने लिखा “मेरे पास आपके लिए कॉमेडी के लिए कोई भी सालह नहीं है। मैं केवल आपसे कुछ चीजें शेयर करना चाहता हूं जो मैंने अनुभव की हैं। एक कॉमेडियन के तौर पर राजनीतिक राय देना आपको महंगा पड़ सकता है।”

कुणाल इस सबके पीछे राजनीति दवाब का दावा करते हुए लिखा “कई बार आप सोचते हो कि सत्ता में बैठे लोगों का मजाक उड़ाने से क्या दिक्कत है? लेकिन इसके परिणाम हैं। कोर्परेशन आपके शो से दो दिन पहले फोन कर आपसे मांफी मांगेगा और कहेगा हमें शो रद्द करना पड़ेगा क्योंकि हमारी सीईओ पीएम के बहुत बड़े फैन हैं और हम किसी भी तरह के राजनीतिक जोक्स नहीं चाहिए। एक दिन आपको आपके मकान की मालकिन कमरा खाली करने के लिए क्योंकि आपने राजनीतिक राय जो दी थी। इस सबके बीच सबसे बड़ी बात जब एचडीएफसी वाले आपको मैसेज कर आपसे पूछेंगे कि क्या आपने अकाउंट आधार कार्ड से लिंक कराया। कॉमेडियन ध्यान से चुने जो कि आप भी बनना चाहते हो।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App