scorecardresearch

कुर्सी का मोह त्याग कर पार्टी को सशक्त करने का है समय – बोले आचार्य प्रमोद, कहा – ये गांधी परिवार है, CM क्या PM भी बना देगा

कांग्रेस के नए अध्यक्ष के नामों को लेकर सियासी अटकलें तेज हो गई हैं। जिसमें राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर (Shashi Tharoor) का नाम सामने आ रहा है।

कुर्सी का मोह त्याग कर पार्टी को सशक्त करने का है समय – बोले आचार्य प्रमोद, कहा – ये गांधी परिवार है, CM क्या PM भी बना देगा
आचार्य प्रमोद कृष्णम (फोटो सोर्स- एएनआई)

कांग्रेस के अध्यक्ष पद के लिए चुनाव होने हैं। ऐसे में पार्टी के बीच इसको लेकर गहमागहमी तेज हो गई है। एक तरफ कहा जा रहा है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अगर अध्यक्ष बनते हैं तो उन्हें मुख्यमंत्री पद का त्याग करना होगा। इसी को लेकर राजनीतिक विश्लेषक आचार्य प्रमोद ने एक ट्वीट किया। जिस पर लोग कई तरह के कमेंट कर रहे हैं।

आचार्य प्रमोद ने किया ऐसा ट्वीट

आचार्य प्रमोद ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर लिखा, ‘कुर्सी का मोह त्याग कर पार्टी को सशक्त करने का समय है। ये गांधी परिवार, मुख्यमंत्री क्या प्रधानमंत्री भी बना देगा। लेकिन संघर्ष के दौर में छोटी-छोटी ज़िद कर के पार्टी नेतृत्व को और अधिक संकट में डालने का पाप मत करो।’ अपने ट्वीट में उन्होंने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, कांग्रेस सांसद राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को टैग भी किया है।

लोगों के रिएक्शन

अभिमन्यु नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा कि बिल्कुल सही सुझाव है। सचिन पायलट को अब तो राजस्थान का मुख्यमंत्री बना देना चाहिए। अरविंद शुक्ला ने कमेंट किया – कुर्सी का मोह कैसे छूट सकता है, उनको भी पता है कि कांग्रेस अध्यक्ष पद पर कोई भी फायदा नहीं होने वाला है क्योंकि सारे फैसले तो गांधी परिवार ही लेगा। दिनेश शर्मा नाम के एक यूज़र ने सवाल किया, ‘ मतलब मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री गांधी परिवार से बनता है तो फिर जनता क्या करती है भाई?’

ओम शर्मा नाम के यूजर ने लिखा कि सचिन पायलट को मुख्यमंत्री के रूप में देखने के लिए जनता बेसब्री से इंतजार कर रही है लेकिन अशोक गहलोत का कुर्सी वाला मोह छूट ही नहीं रहा है। बृजेश शुक्ला नाम के यूजर द्वारा सवाल किया गया, ‘राहुल गांधी अगर अध्यक्ष बनने के काबिल नहीं हैं तो उन्हें जनता प्रधानमंत्री कैसे बना पाएगी?’ देवेंद्र नाम के यूजर ने कमेंट किया कि इसका मतलब गांधी परिवार जो चाहता है वही होता है तो फिर अध्यक्ष बनाने का फायदा क्या है?

अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए जारी की गई अधिसूचना

कांग्रेस के अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण ने अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए अधिसूचना जारी कर दी है। चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया 24 से 30 सितंबर के बीच होगी और चुनाव 17 अक्टूबर को होगा। जिसके 2 दिन बाद नतीजे भी घोषित कर दिए जाएंगे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस से बाहर हैं, वहीं अशोक गहलोत और पार्टी के दिग्गज नेता शशि थरूर के चुनाव लड़ने की चर्चा जोरों पर है।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट