scorecardresearch

‘आदिपुरुष’ फिल्म पर कांग्रेस नेता ने पूछा – हमारी आस्था इतनी कमजोर है कि एक फिल्म से खंडित हो जाएगी? लोगों ने किया कटाक्ष

कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद द्वारा किए गए ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स उन पर कटाक्ष करते हुए कमेंट कर रहे हैं।

‘आदिपुरुष’ फिल्म पर कांग्रेस नेता ने पूछा – हमारी आस्था इतनी कमजोर है कि एक फिल्म से खंडित हो जाएगी? लोगों ने किया कटाक्ष
कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम(फोटो सोर्स: ANI)।

फिल्म निर्देशक ओम राऊत द्वारा निर्देशित फिल्म ‘आदिपुरुष’ का टीजर आने के बाद से ही हिंदू संगठनों द्वारा कई तरह के सवाल उठाए जा रहे हैं। इस बीच मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने फिल्म निर्माताओं को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि फिल्म से हिंदू धार्मिक हस्तियों को गलत तरीके से दिखाने वाला दृश्य नहीं हटाया गया तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी। वहीं कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद ने इस मसले पर एक ट्वीट किया। जिस पर लोग कटाक्ष करते नजर आ रहे हैं।

आचार्य प्रमोद ने किया ऐसा ट्वीट

कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद सोशल मीडिया पर खूब एक्टिव नजर आते हैं। वह हर मसले पर अपनी प्रतिक्रिया देते रहते हैं। इस बीच उन्होंने अकमिंग फिल्म ‘आदिपुरुष’ को लेकर एक ट्वीट किया। उन्होंने सवाल किया कि, ‘क्या हमारी आस्था इतनी कमजोर है, जो एक फिल्म के बनने से खंडित हो जाएगी?’ आचार्य प्रमोद के इस ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स कटाक्ष करते हुए कई तरह की प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

लोगों के रिएक्शन

पत्रकार राजेश साहू ने आचार्य प्रमोद के ट्वीट पर लिखा कि, ‘आस्था बहुत मजबूत है आचार्य जी, असल में कैरेक्टर के स्वाभाव से खिलवाड़ किया जा रहा। प्रभु राम बेहद शालीन रहे, यहां उग्र दिखाया जा रहा। रावण तार्किक बातें करता था, यहां उसके नाम पर कुतर्क किया जा रहा। हनुमान, हनुमान न होकर जॉम्बी बना दिए गए हैं। असली दिक्कत कैरेक्टर है गुरुजी।’ जिसके जवाब में आचार्य प्रमोद ने लिखा कि मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम शाश्वत सत्य हैं। उनसे खिलवाड़ कौन कर सकता है?

पत्रकार आलोक खंडेलवाल ने कमेंट किया कि प्रमोद जी। आस्था के कमजोर होने का मामला नहीं होता। परसेप्शन क्रियेट करने का होता है। और एक-एक कर ऐसे मामले आते रहते हैं। हमें एक लगता है और वह लाखों में होकर वैसा ही सही लगने लगता है। बस इसे समझें आप। जिसके जवाब में आचार्य प्रमोद लिखते हैं कि, ‘अखिल कोटि ब्रह्मांड
नायक हैं राम, दीन बंधु दया के सागर हैं राम, करुणा निधान मर्यादा पुरूषोत्म भगवान हैं श्री राम, इसलिए किसी तरह का कोई परसेप्शन उनके प्रतिबिम्ब को भी नहीं छू सकता।’

अमित सुभाष गुप्ता नाम के ट्विटर हैंडल से कमेंट किया गया कि हमारी तो कमजोर ही है। तभी तो कुछ नहीं करते, मजबूत तो उनकी है, जो एक पोस्ट पर सिर तन से जुदा कर देते हैं आचार्य प्रमोद जी। जानकारी के लिए बता दें कि आचार्य प्रमोद के इस ट्वीट पर अब तक लगभग 33 सौ से ज्यादा लोग कमेंट कर चुके हैं वहीं 8 हजार लोगों ने लाइक किया है।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 06-10-2022 at 03:27:53 pm
अपडेट