scorecardresearch

हिजाब विवाद का यूपी चुनाव में पड़ेगा असर? इस सवाल पर जानिए डिंपल यादव का जवाब

मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की बहु राजलक्ष्मी यादव (Rajlaxmi Yadav) ने भी हिजाब विवाद पर अपना जवाब दिया।

हिजाब विवाद का यूपी चुनाव में पड़ेगा असर? इस सवाल पर जानिए डिंपल यादव का जवाब
पूर्व सांसद डिंपल यादव (File Photo)

कन्नौज से पूर्व सांसद व सपा प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) की पत्नी डिंपल यादव (Dimple Yadav) ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर एक न्यूज़ चैनल से बात की। जिसमें उन्होंने यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) पर निशाना साधा। इसी दौरान उनसे कर्नाटक में उठे हिसाब विवाद को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने उसका जवाब दिया।

डिंपल यादव ‘एबीपी न्यूज़’ चैनल के साथ बात कर रही थी। जिसमें उनसे रिपोर्टर ने समाजवादी पार्टी (Samjawadi Party) के घोषणा पत्र को लेकर सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि अलग-अलग लोगों ने घोषणापत्र के लिए सुझाव दिया था। जिसको ध्यान में रखकर हमने घोषणा पत्र तैयार किया है। डिंपल ने योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि इस सरकार ने केवल युवाओं को ठगने का काम किया है।

यूपी सीएम द्वारा स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर किए गए एक दावे पर डिंपल ने कहा कि हम इस बात को कैसे भूल जाए कि गोरखपुर में ऑक्सीजन न मिलने की वजह से बच्चों की मौत हो गई थी और कोविड की दूसरी लहर में बहुत सारे लोगों ने ऑक्सीजन की कमी से अपने परिवारजनों को खो दिया। जनता इनकी झूठी बात पर कैसे विश्वास कर सकती है।

हिजाब विवाद पर कही यह बात : डिंपल यादव और मुलायम सिंह यादव की बहू राजलक्ष्मी यादव से कर्नाटक में उठे हिजाब विवाद को लेकर सवाल किया गया तो डिंपल यादव ने कहा कि भारत संविधान से चलने वाला देश है। हम सब का आजादी का सम्मान करना चाहिए। वहीं लक्ष्मी ने भी डिंपल की बातों का समर्थन किया। इसके साथ उन्होंने दावा किया कि उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव की सरकार बनने जा रही है।

पीएम नरेंद्र मोदी के आतंकवाद वाले बयान पर किया पलटवार : डिंपल यादव ने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा समाजवादी पार्टी और आतंकवाद के साथ संबंध बताने वाले बयान पर कहा कि जब चुनाव आते हैं, तब यह मुद्दे उठाए जाते हैं। आज यह रोजगार पर नहीं बोलेंगे कि कितने रोजगार यूपी में आए हैं। इसके साथ उन्होंने कहा कि बीजेपी के एक बड़े नेता रैली करने गए थे तो युवा उनसे सेना में भर्ती करने के लिए कह रहे थे।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट