ताज़ा खबर
 

AAP MLA बोलीं- मनहूस ने भारत में कदम क्या रखा दो जवानों की जान चली गई, चौकीदार अभिशाप बन कर आया

अलका लांबा ने इस घटना पर कई ट्वीट किये। उन्होंने कहा, "BJP के मनहूस सत्ता के साये" ने आज 2 और जवानों की कश्मीर में, 2 जवानों की छत्तीसगढ़ में जान ले ली। संघियों को दुःख नहीं होता? उन्हें श्रद्धांजलि देने पर इन्हें मौत पड़ती है? इन जवानों के लिये,इनके परिवारों के लिये एक शब्द इनके मुंह से नहीं निकलता। किसानों-जवानों की हाय लगे इन्हें।"

जम्मू कश्मीर में पाकिस्तानी गोलीबारी में शहीद बीएसएफ के एएसआई सत्य नारायण यादव और कॉन्स्टेबल बिजय कुमार पांडेय।

जम्मू कश्मीर के अखनूर सेक्टर में रविवार (3 जून) तड़के पाकिस्तान की फायरिंग में बीएसएफ के दो जवान शहीद हो गये। आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लांबा ने इस मुद्दे पर बीजेपी और केन्द्र सरकार पर जोरदार हमला बोला है। आप विधायक ने कहा कि ‘चौकीदार देश पर एक अभिशाप बन कर आया है, जब से इसका काला साया देश पर पड़ा है तब से देश बर्बादी की और जा रहा है।’ जम्मू कश्मीर में पाकिस्तान द्वारा सीजफायर उल्लंघन के बाद दो बीएसएफ जवानों की मौते के बाद उन्होंने ट्वीट किया, “एक मनहूस ने वापस भारत में कदम क्या रखा हमारे दो और जवानों की जान चली गई, चौकीदार देश पर एक अभिशाप बन कर आया है, जब से इसका काला साया देश पर पड़ा है तब से देश बर्बादी की और जा रहा है। इस कलंक को मिटाना होगा…देश को मिलकर बचाना होगा, RIP जवानों।” बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी तीन देशों की विदेश यात्रा के बाद शनिवार (2 जून) को ही स्वेदश लौटे हैं।

अलका लांबा ने इस घटना पर कई ट्वीट किये। उन्होंने कहा, “BJP के मनहूस सत्ता के साये” ने आज 2 और जवानों की कश्मीर में, 2 जवानों की छत्तीसगढ़ में जान ले ली। संघियों को दुःख नहीं होता? उन्हें श्रद्धांजलि देने पर इन्हें मौत पड़ती है? इन जवानों के लिये,इनके परिवारों के लिये एक शब्द इनके मुंह से नहीं निकलता। किसानों-जवानों की हाय लगे इन्हें।” बता दें कि 29 मई को ही पाकिस्तान ने 2003 में हुए संघर्षविराम का ‘अक्षरश:’ पालन करने की घोषणा की थी। लेकिन मात्र पांच दिन बाद ही पाकिस्तानी रेंजर्स ने अंतरराष्ट्रीय सीमा पर भारतीय चौकियों को निशाना बनाकर मोर्टार दागे और गोलीबारी की जिसमें सीमा सुरक्षा बल के एक अधिकारी समेत दो जवान शहीद हो गये।

पाकिस्तानी रेंजर्स ने अखनूर सेक्टर के प्रगवाल इलाके और नजदीक के कंचक और खौर सेक्टरों में भारी गोलीबारी की और मोर्टार दागे जिसमें एक पुलिसकर्मी और एक महिला समेत 10 लोग जख्मी भी हुए हैं। इस वजह से लोगों को अपने घरों को छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर जाना पड़ा। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने ‘पीटीआई भाषा’ को बताया कि पाकिस्तान की ओर से प्रगवाल में अंतरराष्ट्रीय सीमा अग्रिम चौकियों को निशाना बनाकर बिना उकसावे के गोलीबारी की गई, जिसमें सहायक उपनिरीक्षक एसएन यादव (48) और कांस्टेबल वीके पांडे गंभीर रूप से जख्मी हो गए। उन्होंने बताया कि दोनों घायलों को अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App