ताज़ा खबर
 

Live शो में बुरी तरह भिड़े नेता: BJP MP ने संजय सिंह को कहा- अरे चोर हो, दिल्ली के अंदर आकर बैठ गये

आप नेता संजय सिंह ने बीजेपी सांसद रमेश बिधूड़ी को कहा कि आप अपनी भाषा संयमित रखिए। इस पर बिधूड़ी बेहद खफा हो गये। उन्होंने कहा, 'अरे चोर हो आप लोग, चोर हो आप लोग।'

आम आदमी पार्टी ने कहा है कि चुनाव आयोग का फैसला पक्षपात पूर्ण है। (फोटो-टीवी ग्रैब)

दिल्ली के 20 विधायकों को अयोग्य ठहराने के चुनाव आयोग की सिफारिश के बाद देश की राजधानी का सियासी तापमान चरम पर है। इस मुद्दे पर आप-बीजेपी और कांग्रेस के बीच जबर्दस्त बयानबाजी हो रही है। आम आदमी पार्टी ने चुनाव आयोग और बीजेपी पर हमला बोला है। टीवी चैनल आजतक पर इसी मुद्दे पर डिबेट के दौरान आप और बीजेपी नेता के बीच तीखी बहस हुई है। बहस के दौरान एक वक्त ऐसा आया जब नेता एक दूसरे पर निजी हमले करने लगे। आजतक के हल्ला बोल कार्यक्रम में आप नेता संजय सिंह और बीजेपी सांसद रमेश बिधुड़ी शिरकत कर रहे थे। जबकि कांग्रेस की ओर से जय प्रकाश अग्रवाल शो में शामिल थे। आप नेता संजय सिंह ने बीजेपी सांसद रमेश बिधूड़ी को कहा कि आप अपनी भाषा संयमित रखिए। इस पर बिधूड़ी बेहद खफा हो गये। उन्होंने कहा, ‘अरे चोर हो आप लोग, चोर हो आप लोग।’ उनके ऐसा कहने पर एंकर ने कहा कि आप लोग लाइव शो में ऐसी भाषा का इस्तेमाल ना करें। इसके बाद संजय सिंह भी उग्र हो गये। उन्होंने कहा एक नंबर की चोर तुम्हारी पार्टी है। संजय सिंह ने कहा कि अगर आप इस तरह बहस करना चाहते हैं तो लीजिए सुनिए। इसके बाद बिधूड़ी ने कहा, ‘तुम दुनिया को चोर बताने वाले लोग अपने चार चार मंत्रियों को चोरी के आरोप में हटाये हो।’

इसके बाद आप नेता संजय सिंह ने कहा, ‘भ्रष्टाचार की दुहाई आप दोगे, जिसकी पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष रक्षा सौदों की दलाली लेते हुए पकड़ा गया।’ इसके बाद रमेश बिधूड़ी ने कहा कि जो शख्स इस दुनिया में है ही नहीं उसके बारे में क्या बात करना। इस दौरान एंकर दोनों की रोकने की कोशिश करते रहे, लेकिन कोई नहीं रूके। दोनों नेताओं ने एक के बाद एक जमकर हमले बोले। रमेश बिधूड़ी ने कहा कि दिल्ली की जनता ने आप को एमसीडी चुनाव में तमाचा मारा है, और गोवा-पंजाब में पार्टी को हैसियत बता दी।

निर्वाचन आयोग ने अधिवक्ता प्रशांत पटेल द्वारा जून 2015 में की गई एक शिकायत पर अपनी राय राष्ट्रपति के पास भेज दी है। पटेल ने तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को भेजी याचिका में संसदीय सचिवों की नियुक्ति को कथित तौर पर अवैध कहा था। रिपोर्ट्स के मुताबिक चुनाव आयोग ने आप के 20 विधायकों को अयोग्य घोषित करने की सिफारिश की है। दिल्ली उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को आप के विधायकों को निर्वाचन आयोग की सिफारिश के खिलाफ अंतरिम राहत देने से इंकार कर दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App