ताज़ा खबर
 

आप नेता आशुतोष ने ल‍िखा- ह‍िंदुत्‍व से नहीं भरेगा पेट, लोगों ने कर द‍िया ट्रोल

टि्वटर यूजर्स का एक बड़ा धड़ा आशुतोष से बेहद नाराज नजर आया। कुछ ने तो उन्हें हिंदू धर्म के खिलाफ बता डाला।

Author नई दिल्ली | December 7, 2017 1:49 PM
AAP नेता आशुतोष की फाइल फोटो।

सुप्रीम कोर्ट में बाबरी विध्वंस केस को लेकर हो रही सुनवाई और देश में इस मुद्दे पर जारी राजनीति के बीच आम आदमी पार्टी नेता आशुतोष ने अप्रत्यक्ष तौर पर मोदी सरकार पर तंज कसा है। गुरुवार को एक न्यूज आर्टिकल ट्वीट करके आशुतोष ने कहा कि हिंदुत्व के मुद्दे से देशवासियों का पेट भरने वाला नहीं है। न्यूज आर्टिकल के शीर्षक में लिखा था कि बीकॉम और बीएड किए नौजवान पान बेच रहे हैं या दूसरे छोटे-मोटे काम कर रहे हैं। आशुतोष ने लिखा, ‘हम हिंदुत्व में विश्वास करते हैं लेकिन हिंदुत्व से हमारा पेट नहीं भरेगा।’ बहुत सारे टि्वटर यूजर्स को आशुतोष की राय पसंद नहीं आई और उन्होंने इस पूर्व पत्रकार को ट्रोल करने की कोशिश की।

टि्वटर यूजर्स का एक बड़ा धड़ा आशुतोष से बेहद नाराज नजर आया। कुछ ने तो उन्हें हिंदू धर्म के खिलाफ बता डाला। एक यूजर के मुताबिक, आशुतोष को कश्मीरी पंडितों से पूछना चाहिए कि उन्हें किस जुर्म की सजा मिल रही है? नील नाम के इस यूजर ने तो आशुतोष को आस्तीन का सांप बता डाला। एक यूजर ने तो आशुतोष की आय के साधन पर ही सवाल पूछ डाले। उसने कहा कि अब आशुतोष किसी भी मीडिया हाउस के हिस्सा नहीं हैं। ऐसे में क्या आम आदमी पार्टी के फंड से उनका खर्च चल रहा है? एक यूजर ने आशुतोष की सोच पर सवाल उठाते हुए पूछा, ‘कौन कहता है कि ग्रैजुएट लोग पान नहीं बेच सकते।’ एक अन्य यूजर ने बताया कि किस तरह एक आईआईएम पासआउट शख्स ने अपने पारिवारिक इडली-डोसे के बिजनेस को नए मुकाम तक पहुंचा दिया। एक अन्य यूजर ने तंज कसते हुए कहा, ‘आशु भाई,आज भाँग पी ली ना।’ एक अन्य यूजर ने कहा कि बीकॉम, बीएड करने वाले पान नहीं बेच रहे, बल्कि पान बेचने वालों ने ये डिग्रियां हासिल की हैं।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Gold
    ₹ 25900 MRP ₹ 29500 -12%
    ₹3750 Cashback
  • Sony Xperia XZs G8232 64 GB (Warm Silver)
    ₹ 34999 MRP ₹ 51990 -33%
    ₹3500 Cashback

बता दें कि राम जन्‍मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील कपिल सिब्बल ने मामले को जुलाई, 2019 तक टालने की मांग की थी। हालांकि इस दौरान उन्होंने साफ तौर पर चुनाव का उल्लेख नहीं किया। मगर माना जा रहा है कि उन्होंने लोकसभा चुनावों की ओर ही संकेत किया था। लेकिन सिब्बल की इन दलीलों को सुप्रीम कोर्ट ने नहीं माना और सुनवाई की अगली तारीख आठ फरवरी तय कर दी। वहीं, सुन्‍नी सेंट्रल वक्‍फ की ओर से हाजी महबूब ने न्यूज एजेंसी एएनआई से कहा, ‘हां कपिल सिब्बल हमारे वकील हैं लेकिन वो एक राजनीतिक दल से भी संबंध रखते हैं। मंगलवार (5 दिसंबर) को सुप्रीम कोर्ट में दिया गया उनका बयान गलत है। हम इस समस्या का समाधान जल्द से जल्द चाहते हैं।’

आशुतोष के ट्वीट पर लोगों ने दिया ऐसा रिएक्शन:

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App