ताज़ा खबर
 

आप नेता आशुतोष बोले- घूसखोरी के लिए येदियुरप्पा और बेटों को करो गिरफ्तार, यूजर्स करने लगे ट्रोल

आम आदमी पार्टी नेता आशुतोष ने ट्वीट कर बीएस येदियुरप्पा और उनके दोनो बेटे श्रीरामलू और मुरलीधर राव को घूसखोरी के केस में अंदर किए जाने की मांग की। इस पर सोशल मीडिया यूजर्स ने उनकी मौज लेनी शुरू कर दी।

Author नई दिल्ली | May 20, 2018 12:12 PM
आप नेता आशुतोष। (एक्सप्रेस फोटोः अमित मेहरा)

विधानसभा में बहुमत सिद्ध न कर पाने पर कर्नाटक में बीजेपी की सरकार गिर गई और मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा को इस्तीफा देना पड़ा। राज्यपाल वजू भाई ने यूं तो येदियुरप्पा सरकार को 15 दिन का मौका दिया था, मगर सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार(19 मई) शाम चार बजे तक बहुमत सिद्ध करने का आदेश दिया था।इस दौरान बहुमत के लिए जरूरी 112 विधायकों का समर्थन जुटाने में येदियुरप्पा नाकाम रहे।गुरुवार को शपथ लेन के बाद सिर्फ 55 घंटे तक मुख्यमंत्री रह पाए। इस पर सोशल मीडिया पर काफी तर्क-वितर्क देखने को मिले।इसी कड़ी में आम आदमी पार्टी नेता आशुतोष ने ट्वीट कर बीएस येदियुरप्पा और उनके दोनो बेटे श्रीरामलू और मुरलीधर राव को घूसखोरी के केस में अंदर किए जाने की मांग की। इस पर सोशल मीडिया यूजर्स ने उनकी मौज लेनी शुरू कर दी।

हार्ड बीपी न्यूज ट्विटर हैंडल ने कहा-जज साहब, आपके ही आदेश का इंतजार था।विस्फोटक ट्विटर हैंडल ने तंज कसते हुए कहा-सर सुना है आप को सारी सीटों पर बहुमत मिला है, फिर भी आपने मुख्यमंत्री, कांग्रेस और जेडीएस का बना दिया है, क्या राज है इतने बड़े बलिदान का। डॉ. आशुतोष पाठक ने लिखा-हिम्मत है तो पुलिस में जाओ और सुबूत पेश करो। आशु ने लिखा-केजरीवाल के साढ़ू के बारे में क्या ख्याल है।

आम आदमी पार्टी नेता आशुतोष के ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स की प्रतिक्रियाएं

मृणाल ठाकुर ने -कहां से रीचार्ज करवाते हो भाई, आपका टॉकटाइम तो खत्म ही नहीं होता है। अब राज्यसभा नहीं जा पाए, इसका ये मतलब थोड़ी है कि कहीं भी, कुछ भी बोलते रहो। धैर्य रखिए, आपका नंबर भी आएगा।चंद्रशेखर सिंह ने कहा-आपकी समस्या यह है कि आप बहुत जल्दी जजमेंटल हो जाते हो, आपकी थ्योरी के हिसाब से आपके बॉस क पहले अंदर जाना चाहिए, ट्वीट करने से पहले जरा सोचिए।आपकी हरकतों से प्रदर्शित होता है कि मोदी फोबिया से आप भयभीत हैं, अपना ध्यान रखिए।

आम आदमी पार्टी नेता आशुतोष के ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स की प्रतिक्रियाएं

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App