ताज़ा खबर
 

‘हिटलर के गुंडे पीटते थे, मोदीजी भी सत्ता के लिए यही करवा रहे’, ट्वीट पर अरविंद केजरीवाल की फजीहत

दरअसल, केजरीवाल की यह टिप्पणी गुरुग्राम के धमसपुर गांव की घटना पर आई, जिसमें एक मुस्लम परिवार को कथित तौर पर 20 से 25 लोगों ने डंडों और लोहे की रॉड से पीटा था। बताया गया कि पीड़ित परिवार से आरोपियों ने पाकिस्तान चले जाने के लिए भी कहा था।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (एक्सप्रेस फोटोः अमित मेहरा)

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल की शुक्रवार (22 मार्च, 2019) को सोशल मीडिया पर जमकर फजीहत हो गई। ऐसा उन्हीं के एक ट्वीट की वजह से हुआ, जो कि सीएम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए किया था। उन्होंने इसमें लिखा कि एक जमाने में जर्मनी के तानाशाह हिटलर के गुंडे लोगों को पीटा करते थे, जबकि मौजूदा दौर में मोदी जी सत्ता के लिए कुछ वैसा ही करा रहे हैं।

लोगों ने इसी पर उनकी जमकर क्लास लगा दी और बोले- पश्चिम बंगाल, केरल और कश्मीर में जब निर्दोष भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के कार्यकर्ताओं को मारा-पीटा जाता है और उनकी हत्या कर दी जाती है, तब केजरीवाल की जुबान को लकवा क्यों मार दिया जाता है?

दरअसल, केजरीवाल की यह टिप्पणी गुरुग्राम के धमसपुर गांव की घटना पर आई, जिसमें एक मुस्लम परिवार को कथित तौर पर 20 से 25 लोगों ने डंडों और लोहे की रॉड से पीटा था। बताया गया कि पीड़ित परिवार से आरोपियों ने पाकिस्तान चले जाने के लिए भी कहा था।

केजरीवाल ने इसी मामले से जुड़े इंडियन एक्सप्रेस के एक ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा था, “हिटलर भी सत्ता के लिए यही करता था। उसके गुंडे लोगों को पीटते थे। खून करते थे और पुलिस जिन्हें मारा गया होता था, उन्हीं पर केस करती थी।”

दिल्ली के सीएम ने आगे उसी ट्वीट में लिखा, “मोदी जी भी ये सत्ता के लिए करवा रहे हैं। वह हिटलर के रास्ते पर चल रहे हैं। पर मोदी समर्थकों को दिखाई नहीं देता कि हमारा भारत किधर जा रहा है?” देखें, लोगों की प्रतिक्रियाएंः

1 ट्वीट ने बढ़ा दी केजरीवाल की मुश्किलें, शिकायत दर्ज: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की मुश्किलें शनिवार को और बढ़ गईं। राजधानी में उनके एक ट्वीट को लेकर शिकायत दर्ज करा दी गई, जिसमें सीएम पर धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप लगाया गया। दरअसल, 20 मार्च को केजरीवाल ने एक फोटो ट्वीट किया था, जिसमें एक व्यक्ति झाड़ू लेकर स्वास्तिक के मिलते-जुलते चिह्न वाले शख्स के पीछे दौड़ रहा था। सीएम ने दावा किया कि यह तस्वीर किसी ने उन्हें भेजी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App