ताज़ा खबर
 

रेयान स्‍कूल की मान्‍यता रद्द नहीं करने पर श‍िक्षा मंत्री पर कुमार व‍िश्‍वास ने कसा तंज, लोगों ने कर द‍िया ट्रोल

हालांक‍ि, कुछ यूजर्स ने व‍िश्‍वास की बात का समर्थन भी क‍िया और कहा क‍ि सरकार चाहे तो सारे बच्‍चों के दाख‍िले के पैसे वापस करवा कर उन्‍हें क‍िसी दूसरे स्‍कूल में दाखिला भी द‍िलवा सकती है।

Author नई दिल्ली | September 12, 2017 5:12 PM
मंत्री के बयान का वीड‍ियो रीट्वीट करते हुए आप नेता कुमार व‍िश्‍वास ने कमेंट क‍िया क‍ि रुको कुछ द‍िन, जनता तुम्‍हारी रद्द कर देगी।

गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशल स्‍कूल में सात साल के बच्‍चे के कत्‍ल के बाद स्‍कूल प्रशासन को लेकर आक्रोश है। इस बीच हर‍ियाणा के श‍िक्षा मंत्री ने साफ कर द‍िया है क‍ि स्‍कूल की मान्‍यता रद्द नहीं की जाएगी। उन्‍होंने कहा क‍ि मान्‍यता रद्द करने के व‍िकल्‍प पर सोचा गया था, पर यहां 1200 बच्‍चे पढ़ते हैं और उनके अभिभावकों का कहना है क‍ि स्‍कूल प्रबंधन की गलती की सजा हमारे बच्‍चों को नहीं म‍िलनी चाह‍िए। मंत्री के बयान का वीड‍ियो रीट्वीट करते हुए आप नेता कुमार व‍िश्‍वास ने कमेंट क‍िया क‍ि रुको कुछ द‍िन, जनता तुम्‍हारी रद्द कर देगी।

HOT DEALS
  • Honor 7X 64GB Blue
    ₹ 15398 MRP ₹ 17999 -14%
    ₹0 Cashback
  • Honor 7X 64GB Blue
    ₹ 15445 MRP ₹ 16999 -9%
    ₹0 Cashback

इस पर कई लोगों ने कुमार व‍िश्‍वास को खूब खरी-खोटी सुनाई। कव‍ि व‍िश्‍वास को लोगों ने बेवकूफ करार देते हुए कहा क‍ि स्‍कूल के 1200 बच्‍चों का क्‍या होगा, यह तो सोच ल‍िया होता। हालांक‍ि, कुछ यूजर्स ने व‍िश्‍वास की बात का समर्थन भी क‍िया और कहा क‍ि सरकार चाहे तो सारे बच्‍चों के दाख‍िले के पैसे वापस करवा कर उन्‍हें क‍िसी दूसरे स्‍कूल में दाखिला भी द‍िलवा सकती है। इस पर कुछ यूजर्स ने कहा क‍ि इसमें आने वाली व्‍यावहार‍िक द‍िक्‍कत का अंदाज है आपको?

कई लोगों ने द‍िल्‍ली के एक स्‍कूल में चपरासी द्वारा कथित रूप से पांच साल की बच्‍ची के बलात्‍कार की खबर शेयर करते हुए कुमार व‍िश्‍वास पर ताना कसा क‍ि हर‍ियाणा सरकार के शब्‍द तो बहुत स्‍पष्‍ट हैं, पर आपकी सरकार के नहीं हैं। कुछ ने पूछा- सर, द‍िल्‍ली वाले स्‍कूल की मान्‍यता रद्द हो गई क्‍या? एक यूजर ने तो और तल्‍ख टिप्‍पणी की क‍ि तुम्‍हारी पार्टी में रेप‍िस्‍ट थे, ठरकी थे, बलात्‍कारी थे। पार्टी की मान्‍यता रद्द हुई क्‍या सर?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App