ताज़ा खबर
 

एंकर सरदाना ने पूछा-मंदिर वहीं बनाएंगे तो फिर तारीख कब बताएंगे?अटकने लगे BJP प्रवक्ता संबित पात्रा

राम मंदिर वहीं बनाएंगे का रट लगाने पर एंकर रोहित सरदाना ने पूछा-तारीख कब बताएंगे तो संबित पात्रा अटकने लगे, फिर बोले कि यहां तो कोई रामभक्त बनना ही नहीं चाहता।
Author नई दिल्ली | February 9, 2018 19:26 pm
दंगल डिबेट पर बहस के दौरान एंकर रोहित सरदाना और बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा( फोटो-यू ट्यूब)

अयोध्या में राममंदिर मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट की शुरू हुई सुनवाई को लेकर ‘आज तक’ टीवी चैनल की डिबेट काफी गरम रही। एंकर रोहित सरदाना के दंगल शो में सभी पैनलिस्ट एक दूसरे पर जवाबी सवाल दागकर उलझते रहे। राम मंदिर का समर्थन कर रहे यूपी शिया वक्त बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी से डिबेट में हिस्सा ले रहे मौलाना से कई बार नोंकझोंक हुई। इस दौरान भाजपा प्रवक्ता बार-बार मंदिर वहीं बनाएंगे का जुमला दोहराते रहे तो एंकर रोहित सरदाना ने कहा-पात्रा जी, मंदिर वहीं बनाएंगे, ये तो आप 1992 से कहते आ रहे हैं, लेकिन तारी नहीं बताएंगे? जब सुब्रमण्यम स्वामी तारीख बताएंगे तो आप कहेंगे कि यह उनकी निजी राय है, इसका पार्टी से कोई लेना-देना नहीं है। क्या आप केवल डिस्कशन में ताली बटारेंगे? जवाब देते हुए संबित पात्रा बोले-हमारे जीवनकाल में रामलला जरूर विराजेंगे। इस पर रोहित सरदाना ने तंज कसते हुए कहा-वाह डॉक्टर साहब…वाह।

यह सुनकर पात्रा ने कहा-अरे भाई यहां तो कोई रामभक्त बनने को कोई तैयार ही नहीं है तो एंकर रोहित ने कहा हमें आपसे रामभक्ति का सर्टिफिकेट नहीं चाहिए। जवाब सुनकर पात्रा थोड़ा नाराज हो उठे और सरदाना से बोले कि ठीक है तो आप मौलाना साहब से प्रमाणपत्र ले लीजिए। इस बीच मौलाना असद खान ने भाजपा पर सिर्फ राममंदिर को लेकर राजनीति करने का आरोप लगाया और कहा कि खुद पार्टी के नेता ही नहीं चाहते की मंदिर बने। असद खान ने खुद मंदिर मुद्दे पर साथ देने की बात कही तो रोहित सरदाना ने कहा आप तो वसीम रिजवी के साथ ही नहीं हो, फिर कैसे कह रहे हैं कि मंदिर वहीं बनाइए, हम साथ देंगे। बताइए, आपके साथ कितने मुसलमान हैं, कोई संख्या तो होगी, इसका कोई असद खान नहीं दे पाए। इस बीच वसीम रिजवी ने कहा कि कुछ कट्टरपंथी मुसलमान नहीं चाहते हैं कि अयोध्या में मंदिर वहां बनें। मौलाना असद खान ने वसीम रिजवी से इस पर आपत्ति जताई तो वसीम रिजवी ने कहा क्या आप जाकिर नाइक को मानते हैं, अगर नहीं मानते हैं तो फिर क्यों भड़क रहे हैं, जो कट्टरपंथी होगा, उसे भड़कना चाहिए।

इस पर असद खान ने रिजवी से कहा कि मदरसों को लेकर बयान के बाद आपकी कोई क्रेडिबिलिटी ही नहीं है। एंकर रोहित ने कहा कि संबित की तरह आप भी अपना सर्टिफिकेट घर पर रखिए। किसी की क्रेडिबिलिटी पर आप कौन होते हैं प्रमाणपत्र बांटने वाले। डिबेट में शामिल विहिप नेता विजय शंकर तिवारी ने कहा कि वे हमेशा से कहते आए हैं कि संवैधानिक तरीके से मंदिर बनेगा, लेकिन इसका मतलब सिर्फ कोर्ट से ही नहीं बल्कि संसद से भी था। इस पर एंकर रोहित सरदाना ने कहा क्या आप बीजेपी वालों से पूछेंगे कि संसद के जरिए राम मंदिर का रास्ता खोलने की हिम्मत है। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा-लिखकर ले लीजिए, मंदिर वहीं बनेगा और कैसे बनेगा, यह हम आपको डिबेट में बताने वाले नहीं हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.