डीआईजी ऑफिस पहुंचा युवक खुद को बताने लगा मुकेश अंबानी का दामाद, कहा – मुझे चाहिए z प्लस सिक्योरिटी

उस व्यक्ति ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जिक्र करते हुए कहा कि पीएम की ओर से सुरक्षा कारणों से फोन को स्विच ऑफ रखने का आदेश दिया गया है।

Uttar Pradesh, Yogi Adityanath
डीआईजी आरके भारद्वाज समझ गए कि इस व्यक्ति की मानसिक हालत ठीक नहीं है।(फोटो सोर्स – सोशल मीडिया)

उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले के डीआईजी ऑफिस में पहुंचा एक युवक आपको रिलायंस इंडस्ट्री के मालिक मुकेश अंबानी का दामाद बताने लगा। उसके साथ ही उसने कहा कि मुझे जेड प्लस सिक्योरिटी दीजिए। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उसने डीआईजी ऑफिस में अधिकारियों से बताया कि वह जल्द ही मिर्जापुर में हजारों करोड़ रुपए का निवेश करने वाला है। उसी सिलसिले में उसको यहां पर भेजा गया है।

अंबानी परिवार का नाम गिनाते हुए कहा कि मेरे बड़े ससुर का नाम राकेश भाटिया, उनकी पत्नी का नाम प्रिया भाटिया है, छोटे ससुर का नाम मुकेश अंबानी है, उनकी पत्नी का नाम नीता अंबानी है। जब मीडिया द्वारा सवाल पूछा गया कि यह कैसे यकीन किया जाए कि आप मुकेश अंबानी के दमाद हो? इस सवाल के जवाब में उस व्यक्ति ने बताया कि मुझे कुछ समय के लिए अपना फोन स्विच ऑफ करने को कहा गया है इसलिए आप फोन से बात करके पता कर लीजिए।

उस व्यक्ति ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जिक्र करते हुए कहा कि पीएम की ओर से सुरक्षा कारणों से फोन को स्विच ऑफ रखने का आदेश दिया गया है। उसने कहा कि मुख्यमंत्री और राष्ट्रपति की तरफ से भी यही आदेश है कि फोन पर कम से कम बात करनी है। मैं रोज केवल एक फिक्स समय पर फोन ऑन करता हूं और किसी से बात करता हूं। साथ ही उसने अभी कहा कि मेरा 4G फोन खो गया है इसलिए मैं 2G फोन का इस्तेमाल कर रहा हूं।

उसने अपने बारे में जानकारी देते हुए कहा कि मेरा नाम डॉ रवि श्याम द्विवेदी है मैं जिगना थाना क्षेत्र के खैरा गांव मिर्जापुर उत्तर प्रदेश रहने वाला हूं। उसने मीडिया से बातचीत में बताया कि मेरी अभी शादी नहीं हुई है अभी सिर्फ तय की गई है। जब उसे पूछा गया कि अभी तक शादी नहीं हुई है तो कैसे दमाद हो गए? इसके जवाब में उस युवक ने बताया कि वह लोगों ने शादी मान ली है तो मैं उनका दामाद हो गया हूं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक डीआईजी आरके भारद्वाज समझ गए कि इस व्यक्ति की मानसिक हालत ठीक नहीं है। जिसके बाद उन्होंने समझा बुझाकर वापस घर भेज दिया।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट