ताज़ा खबर
 

‘कोरोना को रात के अंधेरे में भटका के मारेगें’, पीएम नरेंद्र मोदी की अपील पर यूं चुटकी ले रहा सोशल मीडिया

पीएम मोदी ने देशवासियों से अपील की कि, 'रविवार को रात 9 बजे घर की सभी लाइटें बंद करके, घर के दरवाजे पर या बालकनी में खड़े रहकर 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दीया टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं। '

Author Updated: April 3, 2020 11:59 AM
पीएम मोदी ने देशवासियों से अपील की कि, ‘रविवार को रात 9 बजे घर की सभी लाइटें बंद करके, घर के दरवाजे पर या बालकनी में खड़े रहकर 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दीया टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं। ‘

पीएम मोदी ने शुक्रवार 3 अप्रैल को सुबह 9 बजे वीडियो मैसेज के माध्यम से देश को संबोधित किया। इस संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि, ‘5 अप्रैल को हम सबको मिलकर कोरोना के संकट के अंधकार को चुनौती देनी है। उसे प्रकाश की ताकत का परिचय करना है। इस 5 अप्रैल को हमें 130 करोड़ देशवासियों की महाशक्ति का जागरण करना है। देशवासियों को महासंकल्प को नई ऊंचाइयों पर ले जाना है।’

पीएम मोदी ने देशवासियों से अपील की कि, ‘रविवार को रात 9 बजे मैं आप सबके 9 मिनट चाहता हूं। घर की सभी लाइटें बंद करके, घर के दरवाजे पर या बालकनी में खड़े रहकर 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दीया टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं। उस समय घर की सभी लाइटें बंद करेंगे, चारों तरफ जब हर व्यक्ति एक-एक दीया जलाएगा तब प्रकाश की उस महाशक्ति का अहसास होगा कि हम सब एक ही मकसद से लड़ रहे हैं।’

प्रधानमंत्री की इस अपील पर सोशल मीडिया में मिलीजुली प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। तमाम लोग पीएम की अपील के साथ दिख रहे हैं तो वहीं बहुत से सोशल मीडिया यूजर्स ऐसे भी हैं जो पीएम की इस अपील पर चुटकी लेचे नजर आए।

बॉलीवुड एक्टर एजाज खान ने पीएम की अपील पर चुटकी लेते हुए लिखा- सारी लाइटें जब बंद हो जाएंगी तो करोना यह समझेगा कि भारत में अब कोई नहीं है तो वह भाग जाएगा। वहीं एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने लिखा कि ये एक औऱ टास्क मिल गया। देखिए किस तरह से लोग पीएम मोदी की अपील पर तंज कस रहे हैं:

 

बता दें कि इससे पहले पीएम मोदी लगभग इसी तरह की जनता कर्फ्यू के लिए भी कर चुके हैं। 22 मार्च को जनता कर्फ्यू वाले दिन पर बोलते हुए पीएम ने कहा कि, ‘जनता कर्फ्यू और थाली बजाना लोगों के लिए मिसाल बन गया। उन्होंने 22 मार्च रविवार को दिन कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ने वाले हर किसी का धन्यवाद किया, वह भी आज कई देशों के लिए मिसाल बन गया है। जनता कर्फ्यू, या थाली बजाने का कार्यक्रम हो। इन्होंने इसकी सामूहिक शक्ति का असहास कराया। इससे पता चला कि देश एक होकर कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ सकता है।’

कोरोना संक्रमण के बीच सुर्खियों में आए तबलीगी जमात और मरकज की कैसे हुई शुरुआत, जान‍िए

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 कोरोना: तबलीगी जमातियों पर भड़कीं पहलवान बबीता फोगाट, विवादित ट्वीट पर मचा बवाल
2 ‘तुम गौमूत्र पियो और थाली बजाओ’, BJP आईटी सेल चीफ अमित मालवीय को अनुराग कश्यप ने किया ट्रोल
3 कोरोना: तो क्या सुधीर मिश्रा की हुई पुलिस से पिटाई? वायरल वीडियो पर डायरेक्टर ने तोड़ी चुप्पी