ताज़ा खबर
 

विंडोज फोन, 3D TV समेत 2017 में खत्म हो गईं ये टेक्नोलॉजी

ऐपल ने अपने आईपॉड के ऑप्शन के तौर पर ऐपल आईपॉड शफल और आईपॉड नैनो को लॉन्च किया था, लेकिन समय के साथ इन्हें अपडेट नहीं किया जा सका।

दिसंबर में ही गूगल ने अपने ब्राउजर गूगल क्रोम में दिखने वाले क्रोम ऐप्स को बंद कर दिया। इसमें विंडोज, लाइनक्स, और मैक ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए विभिन्न ऐप्स मिलते थे।

नया साल नई उम्मीदें, नया साल शुरू होते ही पुरानी चीजों में कुछ बदलाव भी हुए हैं। आज हम आपको साल 2017 में चल रही कुछ ऐसी टेक्नोलॉजी के बारे में बताने जा रहे हैं जो कि 2018 तक नहीं पहुंच पाईं। मतलब 2017 में बंद हो गई या फिर उन्हें बंद करने का ऐलान कर दिया गया। किसी को सर्विस देना बंद कर दिया गया। सबसे पहले मोबाइल की बात करते हैं। माइक्रोसॉफ्ट ने अपने विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ आने वाले स्मार्टफोन्स को लेकर आखिरकार हार मान ली। माइक्रोसॉफ्ट ने अपने फोन बनाने बंद कर दिए। साथ ही अभी चल रहे विंडोज फोन को भी किसी भी तरह का अपडेट देने से भी मना कर दिया।

अगला नंबर 3D टीवी का आता है। 3D टीवी ने शुरुआत में तो मार्केट में धमाकेदार एंट्री ली थी, लेकिन धीरे-धीरे इसे बनाने वाली कंपनियों ने ही अपने हाथ पीछे खींच लिए। LG और सोनी जैसे ब्रैंड्स ने इन टीवी के लिए सपॉर्ट देना बंद कर दिया। कंपनियों ने नए 3D टीवी बनाने भी बंद कर दिए। अगला नंबर म्यूजिक का आता है। ऐपल ने अपने आईपॉड के ऑप्शन के तौर पर ऐपल आईपॉड शफल और आईपॉड नैनो को लॉन्च किया था, लेकिन समय के साथ इन्हें अपडेट नहीं किया जा सका।

HOT DEALS
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 15390 MRP ₹ 17990 -14%
    ₹0 Cashback
  • Sony Xperia L2 32 GB (Gold)
    ₹ 14850 MRP ₹ 20990 -29%
    ₹0 Cashback

माइक्रोसॉफ्ट कनेक्ट सेंसर पर काम करने वाला गेमिंग कंसोल है। एक टाइम पर रिकॉर्ड बिक्री वाले इस गैजेट का अब कोई महत्व नहीं दिखता है। इंस्टैंट मेसेंजर सर्विस (AIM) भी दिसंबर 2017 में बंद हो गई। कंपनी ने बयान जारी करके कहा 20 साल से चल रही इस सर्विस को 15 दिसंबर 2017 से बंद किया जा रहा है। इसी के साथ पिछले साल एक यह खत्म हो गई। साल 2017 में निंटेंडो एंटरटेनमेंट सिस्टम भी बंद हो गई।

दिसंबर में ही गूगल ने अपने ब्राउजर गूगल क्रोम में दिखने वाले क्रोम ऐप्स को बंद कर दिया। इसमें विंडोज, लाइनक्स, और मैक ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए विभिन्न ऐप्स मिलते थे। गूगल ने अपनी टैंगो सर्विस को भी बंद कर दिया है। यह डिवेलपर्स को एंड्रॉयड के लिए ऑगमेंटेड रिऐलिटी बेस्ड ऐप तैयार करने में मदद करता है। माइक्रोसॉफ्ट ने अपनी कई सर्विसेज पर इस साल ताला लगाया। यह भी उन्हीं में से एक है। 31 दिसंबर 2017 से माइक्रोसॉफ्ट ग्रूव म्यूजिक को बंद कर दिया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App