ताज़ा खबर
 

Byju Raveendran: इंजीनियर से टीचर और फिर उद्योगपति बनने तक का सफर, ऐसे खड़ी की इतनी बड़ी कंपनी

Byju raveendran : BYJU'S Classes को शुरू करने वाले Byju raveendran की कहानी किसी फिल्मी की स्टोरी से कम नहीं है। केरल से गांव से पढ़कर वह इंजीनियर बने, इसके बाद वह टीजर बने और अब एक उद्यमी हैं। हाल ही में उनकी कंपनी ने Aakash इंस्टीट्यूट का अधिग्रहण कर लिया है।

Byju raveendran life, BYJUS Classes, Aakash institute,Byju Raveendran कैसे बने बिलेनियर। फाइल फोटो

Byju Raveendran: ऑनलाइन क्लास के क्षेत्र में बड़ा मुकाम हासिल कर चुका BYJU एक गांव में पढ़े व्यक्ति ने शुरू किया। इस व्यक्ति का नाम बायजू रवींद्रन है। बता दें कि BYJU’S ने एक अरब डॉलर (करीब 7300 करोड़ रुपये) में आकाश एजुकेशन सर्विसेज लिमिटेड का अधिग्रहण कर लिया है। इतना ही नहीं बायजू के संस्थापक को फॉर्च्यून आकाश अंबानी और ईशा अंबानी के साथ के साथ जगह दे चुका है। आइये जानते हैं बायजू रवींद्रन के बारे में।

Byju Raveendran: गांव से पढ़ाई करके इंजीनियर बने

बायजू रवींद्रन की कहानी किसी फिल्म की कहानी से कम नहीं है। दरअसल, केरल के कन्नूर जिले के अझिकोड गांव में जन्में रवींद्रन के माता-पिता पेशे से शिक्षक थे और उन्होंने अपनी पढ़ाई मलयालम भाषा में शुरू की। इसके बाद उन्होंने इंजीनियरिंग में ग्रेजुएट की और कई साल तक एक शिपिंग कंपनी में काम किया। एक बार छुट्टियों के दौरान वह घर आए थे और उन्होंने अपने दोस्तों को कॉमन एप्टीट्यूड टेस्ट (CAT) प्रवेश परीक्षा में मदद की थी, जिसके बाद उनके दोस्तों को बड़ी उपलब्धि हासिल हुई। इसके बाद रवींद्रन का सफर बतौर अध्यापक शुरू हुआ।

Byju Raveendran: BYJU’S की कक्षाओं की लोकप्रियता ने छुआ मुकाम

इसके बाद रवींद्रन की BYJU’S क्लास में छात्रों संख्या बढ़ती चली गई और कब उन्होंने हजार छात्रों का आंकड़ा छू लिया उन्हें पता ही नहीं चलता। इसके बाद उन्होंने नौकरी छोड़ने का फैसला लिया। कुछ समय के बाद उनके छात्रों की संख्या इतनी अधिक हो गई कि उन्हें क्लासेस लेने के लिए स्टेडियम और ऑडिटोरियम में जाना पड़ता था।

Byju Raveendran: कैसे BYJU’S Classes नाम आया

Byju raveendran की क्लासेस की लोकप्रयिता बढ़ती चली गई और छात्रों के बीच वह Byju’s Classes के नाम से लोकप्रिय होते चले गए। BYJU’S क्लासेस का नाम उन्हें उनके छात्रों ने दिया था। साल 2007 में रवींद्रन की Byju’s Classes काफी लोकप्रिय हो गईं थीं। इसके बाद 2011 में उन्होंने थिंक एंड लर्न नामक कंपनी बनाई, जिसने कैट जैसी परीक्षा देने वाले छात्रों के लिए वीडियो कंटेंट बनाने की जगह स्कूल के स्टूडेंट के लिए वीडियो कंटेंट बनाना शुरू किया। साल 2011 से लेकर 2015 तक रवींद्रन की कंपनी ने कक्षा 6 से लेकर 12वीं तक के छात्रों के लिए वीडियो कंटेंट तैयार किया और लगभग सभी विषय को कवर किया। बताते चलें कि थिंक एंड लर्न बायजू की पेरेंटल कंपनी है।

Byju Raveendran: साल 2015 में लॉन्च किया था बायजू

Byju’s ऐप को साल 2015 में लॉन्च किया गया, जो एक गेम चेंजर प्रोडक्ट बनकर उभरा। स्मार्टफोन की लोकप्रयिता के साथ यह ऐप भी लोकप्रिय होता चला गया और इसने कई बड़े मुकाम को हासिल किया। इस दौरान बायजू रवींद्रन को बीते साल वेल्थ मैगजीन फॉर्च्यून ने अपनी एक सूची में शामिल किया था, जिसमें आकाश अंबानी और ईशा अंबानी शामिल थे। दरअसल, साल 2020 में फॉर्च्यून ने 40 साल तक की आयु वाले दुनिया के 40 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूची तैयार की थी, जिसमें बायजू रवींद्रन को भी शामिल किया गया था। इस सूची में रविंद्रन को 46वीं रैंक मिली थी और इनकी नेटवर्थ 3.05 बिलियन डॉलर (लगभग 22.3 हजार करोड़ रुपये) बताई गई थी।

Next Stories
1 Tiktok, Facebook, WhatsApp साल 2020 में सबसे ज्यादा हुए डाउनलोड, वीडियो स्ट्रीमिंग में YouTube है अव्वल
2 Flipkart Mobile Bonanza sale 7 अप्रैल से होगी शुरू, स्मार्टफोन पर पाएं बेस्ट डील्स और डिस्काउंट
3 Redmi ला रहा है दुनिया का सबसे सस्ता 5G फोन, रेडमी 20X होगा नाम, जानें स्पेसिफिकेशन
ये पढ़ा क्या?
X