भारत में WhatsApp पर पेमेंट के लिए किसी वेरिफिकेशन डॉक्यूमेंट की जरूरत नहीं- सोशल मैसेजिंग ऐप ने किया साफ

वॉट्सऐप मौजूदा समय में विश्व की सबसे पॉपुलर मैसेजिंग सर्विस है। यह भारत और ब्राजील में भी बेहद लोकप्रिय है। चैटिंग के अलावा इस पर एक बिल्ट-इन पेमेंट सर्विस भी मिलती है।

Whatsapp, Utility News, Tech News
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

सोशल मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप (WhatsApp) ने कहा है कि भारत में इस प्लैटफॉर्म पर पेमेंट के लिए किसी वेरिफिकेशन डॉक्यूमेंट की जरूरत नहीं होती है। वॉट्सऐप की ओर से यह सफाई, उस रिपोर्ट के सामने आने के बाद आई है, जिसमें बताया गया था कि वॉट्सऐप अपने यूजर्स को आने वाले समय में अपडेट में अपनी पहचान वेरिफाई करने के लिए कह सकता है।

‘XDR’ की रिपोर्ट के हवाले से कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में इसके साथ यह भी बताया गया था कि वॉट्सऐप वेरिफिकेशन में डॉक्यूमेंट जमा करना शामिल किया जा सकता है, जबकि वॉट्सऐप से जुड़ी यह ताजा रिपोर्ट लेटेस्ट बीटा में देखे गए नए स्ट्रिंग्स पर आधारित पर बताई गई थी।

आगे उसी रिपोर्ट में कहा गया था कि एंड्रॉयड वर्जन 2.21.22.6 (ताजा बीटा वर्जन) के लिए वॉट्सऐप ने कुछ स्ट्रिंग्स जोड़े हैं, जो संकेत देते हैं कि ऐप यूजर्स को सेवा पर पेमेंट करने के लिए आइडेंटिटी वेरिफिकेशन संबंधी दस्तावेज जमा करने के लिए कह सकता है।

वॉट्सऐप मौजूदा समय में विश्व की सबसे पॉपुलर मैसेजिंग सर्विस है। यह भारत और ब्राजील में भी बेहद लोकप्रिय है। चैटिंग के अलावा इस पर एक बिल्ट-इन पेमेंट सर्विस भी मिलती है, जो इन दोनों देशों में उपलब्ध है। वॉट्सऐप पेमेंट्स सर्विस यूजर्स को सीधे एक-दूसरे को पैसे भेजने की सुविधा देती है।

लेटेस्ट बीटा पर ‘एक्सडीए’ ने कथित तौर पर अलग-अलग शीर्षक से चार स्ट्रिंग्स को स्पॉट किया था। इनमें “आपकी पहचान सत्यापित नहीं की जा सकी, दस्तावेज़ों को फिर से अपलोड करने का प्रयास करें” और “व्हाट्सएप पर भुगतान का उपयोग जारी रखने के लिए अपनी पहचान सत्यापित करें” शामिल था। रिपोर्ट के अनुसार, दो अन्य स्ट्रिंग्स भी थे, जिनके शीर्षक “वॉट्सऐप सपोर्ट” था, जिसे एंड्रॉइड के लिए वॉट्सऐप के लेटेस्ट बीटा वर्जन पर देखा गया था।

हालांकि, वॉट्सऐप इंडिया के प्रवक्ता की ओर से इस बारे में जनसत्ता डॉट कॉम को साफ किया, “भारत में वॉट्सऐप पर पेमेंट के लिए किसी वेरिफिकेशन डॉक्यूमेंट की जरूरत नहीं होती है। सोशल मैसेजिंग ऐप पर पेमेंट भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (National Payments Corporation of India) द्वारा अनुमोदित है और भीम यूपीआई (BHIM UPI) द्वारा संचालित है। यह वैध बैंकिंग भागीदारों के साथ लेनदेन को सक्षम बनाता है। अन्य यूपीआई (UPI) पेमेंट ऐप्स की तरह एक यूजर को यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि प्लैटफॉर्म पर पेमेंट के जरिए पैसे भेजने और हासिल करने के लिए मोबाइल नंबर वही हो, जो उनके बैंक खाते से जुड़ा हुआ है।”

बता दें कि वॉट्सऐप मौजूदा समय में विश्व की सबसे पॉपुलर मैसेजिंग सर्विस है। यह भारत और ब्राजील में भी बेहद लोकप्रिय है। चैटिंग के अलावा इस पर एक बिल्ट-इन पेमेंट सर्विस भी मिलती है, जो इन दोनों देशों में उपलब्ध है। वॉट्सऐप पेमेंट्स सर्विस यूजर्स को सीधे एक-दूसरे को पैसे भेजने की सुविधा देती है।

पढें टेक्नोलॉजी समाचार (Technology News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।