ताज़ा खबर
 

अगर आप भी Wifi या हॉटस्पॉट का इस्तेमाल करते हैं तो अपने मोबाइल में ये एप जरूर रखें

आजकल लोग अपने स्मार्टफोन्स में इंटरनेट के लिए वाईफाई और हॉटस्पॉट का इस्तेमाल धड़ल्ले से कर रहे हैं। इसके इस्तेमाल के साथ ही आपके मोबाइल और डाटा पर सेंधमारी का खतरा भी बढ़ जाता है।

Author Published on: March 16, 2017 11:52 AM
अगर यह प्रस्ताव आगे बढ़ाया जाता है तो लोगों को करीब 20 रुपए में 1 जीबी डेटा मिल पाएगा

आज की दुनिया स्मार्टफोन्स और इंटरनेट की दुनिया है। आज लगभग हर किसी के पास स्मार्टफोन है और इनमें से ज्यादातर लोगों के फोन में इंटरनेट भी है। लेकिन साइबर क्राइम से बचने के लिए इंटरनेट के इस दौर में जरूरी है कि आप अपने मोबाइल और लैपटॉप की सुरक्षा पर जरूर ध्यान दें। इसके लिए जो सबसे अहम बात है वो ये है कि आप अपने मोबाइल और लैपटाप में एंटी वायरस का इस्तेमाल जरूर करें। आजकल लोग अपने स्मार्टफोन्स में इंटरनेट के लिए वाईफाई और हॉटस्पॉट का इस्तेमाल भी धड़ल्ले से कर रहे हैं। इसके इस्तेमाल के साथ ही आपके मोबाइल और डाटा पर सेंधमारी का खतरा भी बढ़ जाता है। लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि मार्केट में बहुत से ऐसे एप मौजूद हैं जिनके इस्तेमाल से आप अपने मोबाइल और डाटा की पहरेदारी कर सकते हैं। तो जानते हैं कौन से वो मोबाइल एप्लीकेशन्स हैं जिनको आपके स्मार्टफोन में रहना ही चाहिए:

Wifi Kill Refrence:- वाईफाई किल एप्लीकेशन एक बेहद उपयोगी एप है। एक तो ये एप दूसरों को वाईफाई हॉटस्पॉट से जुड़ने से रोकने में मदद करता है दूसरा जब आप किसी पब्लिक वाईफाई का इस्तेमाल करते हैं तो यह उसकी स्पीड बढ़ाने का विकल्प भी देता है। गूगल प्लेस्टोर पर यह एप ‘फ्री वाई-फाई किल रेफरेंस’ नाम से उपलब्ध है। बता दें कि पब्लिक वाईफाई नेटवर्क में सुरक्षा संबंधित कई खामियां होती हैं। साथ ही वहां से डिवाइस में वायरस आने का खतरा भी ज्यादा होता है। ये एप पब्लिक वाईफाई के इस्तेमाल के वक्त किसी को भी डाटा चुराने से रोकता है।

Wifi Inspector:- इस एप के इस्तेमाल से आप इस बात की जानकारी हासिल कर सकते हैं कि उनके वाईफाई राउटर या हॉटस्पॉट से कितने लोगों ने अपना डिवाइस कनेक्ट कर रखा है। साथ ही उन डिवाइसों का नाम और उनका मैक एड्रेस भी इसमें दिखाई देगा। 4.3 रेटिंग वाला यह एप मुफ्त में मौजूद है। इस एप को बनाने वालों का दावा है कि यह एप ऐसी सारी जानकारी 30 सेकेंड के अंदर ही बता देने में सक्षम है। यह एप एंड्रॉयड 2.3 जिंजरब्रेड ऑपरेटिंग सिस्टम या उससे ऊपर के वर्जन पर काम करता है। गूगल प्ले स्टोर पर यह एप ‘वाई-फाई इंस्पेक्टर’ नाम से उपलब्ध कराया गया है।

Fing Network Tools:- ‘फिंग नेटवर्क टूल्स’ नाम के इस एप के इस्केमाल से भी आप जान सकते हैं कि आपके वाईफाई राउटर से कितने डिवाइस कनेक्ट हैं। यह एप भी गूगल प्लेस्टोर पर उपलब्ध है। फिंग नेटवर्क टूल्स से डिवाइस की हिस्ट्री भी देखी जा सकती है। इतना ही नहीं इसके इस्तेमाल से हम यह भी पता लगा सकते हैं कि कौन सी डिवाइस कब-कब वाईफाई राउटर से कनेक्ट हुई थी।

वीडियो में देखें अक्षय कुमार को गुलशन कुमार के अवतार में:

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Gmail के एंड्रॉयड ऐप से अब भेज सकेंगे पैसे, अभी तक केवल कंप्यूटर पर ही थी यह सुविधा
2 अगर आप भूल गए हैं अपने WiFi का पासवर्ड तो ऐसे करें रिकवर, नहीं पड़ेगी पासवर्ड रीसेट करने की जरूरत
3 म्यूजिक प्ले करके भी हैकर आसानी से हैक कर सकता है आपका स्मार्टफोन
ये पढ़ा क्‍या!
X