DG Shakti Portal के जरिए युवाओं को मिलेंगे फ्री स्मार्टफोन और लैपटॉप, वितरण के लिए योगी सरकार का यह है प्लान

47 सौ करोड़ की लागत से खरीदे जाने वाले स्मार्टफोन और टैबलेट के लिए कई नामी कंपनियों ने टेंडर किया है। इसमें टैबलेट के लिए विशटल (आईरिस), सैमसंग (विजन) और एसर (सेलकॉन), स्मार्टफोन के लिए लावा, सैमसंग (सेलकॉन) और सैमसंग (यूनाइटेड) ने टेंडर दाखिल किया है।

up, dg shakti portal, yogi adityanath
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक कार्यक्रम के दौरान कुछ सोचते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

उत्तर प्रदेश सरकार की दिसंबर के दूसरे सप्ताह से युवाओं को निःशुल्क स्मार्टफोन और टैबलेट देने की योजना है। इसके लिए डीजी शक्ति नाम से एक पोर्टल बनाया गया है, जिसे जल्द ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लॉन्च करेंगे। एक सरकारी बयान के मुताबिक इसी पोर्टल के माध्यम से स्मार्टफोन और टैबलेट का वितरण और छात्रों को भविष्य में पढ़ाई के लिए विषयवस्तु दी जाएगी। इसके अलावा स्मार्टफोन और टैबलेट के बारे में समय-समय पर छात्रों को उनके मोबाइल नंबर और मेल पर सूचना दी जाएगी।

समाजवादी पार्टी द्वारा भाजपा पर छात्रों को लैपटॉप और टैबलेट उपलब्ध कराने के चुनावी वादे को न पूरा करने के आरोपों के बीच सरकार यह कदम उठा रही है। सपा का कहना है कि मुख्यमंत्री (आदित्यनाथ) खुद लैपटॉप संचालित करने में असमर्थ हैं, इसलिये वह इसे बांटने में रूचि नहीं ले रहे हैं। सपा प्रमुख ने 29 अक्टूबर को अपने संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ में इंटर-कॉलेज में आयोजित एक समारोह में कहा था, “अगर वह (आदित्यनाथ) लैपटॉप चलाना जानते होते, तो वह उन्हें पहले ही वितरित कर देते।”

यादव ने कहा था कि 2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा के घोषणापत्र में कहा गया था कि आगे की पढ़ाई करने वाले छात्रों को मुफ्त डेटा के साथ लैपटॉप और टैबलेट कंप्यूटर दिए जाएंगे और उन संस्थानों में वाई-फाई कनेक्शन स्थापित किए जाएंगे। मंगलवार को जारी बयान के मुताबिक पंजीकरण से लेकर स्मार्टफोन और टैबलेट वितरण तक पूरी व्यवस्था निःशुल्क है। सरकार की ओर से स्मार्टफोन और टैबलेट की खरीद के लिए जेम पोर्टल पर अब तक का सबसे बड़ा टेंडर जारी किया गया है।

47 सौ करोड़ की लागत से खरीदे जाने वाले स्मार्टफोन और टैबलेट के लिए कई नामी कंपनियों ने टेंडर किया है। इसमें टैबलेट के लिए विशटल (आईरिस), सैमसंग (विजन) और एसर (सेलकॉन), स्मार्टफोन के लिए लावा, सैमसंग (सेलकॉन) और सैमसंग (यूनाइटेड) ने टेंडर दाखिल किया है। तकनीकी जांच के बाद योग्य फर्मों की वित्तीय निविदा खोली जाएगी।

बयान के मुताबिक टेंडर में चयनित कंपनियों को पहली खेप में कम से कम ढाई लाख टैबलेट की आपूर्ति करनी होगी। हालांकि स्मार्टफोन के लिए चयनित कंपनियों को पहली खेप में कम से कम पांच लाख स्मार्टफोन की आपूर्ति करनी होगी। इस वर्ष 23 अक्टूबर को,मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि उनकी सरकार नवंबर के अंत तक युवाओं के बीच टैबलेट और स्मार्टफोन का वितरण शुरू कर देगी।

पढें टेक्नोलॉजी समाचार (Technology News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।