ताज़ा खबर
 

Whatsapp समूह से युवक को हटाने पर एडमिन पर धारदार हथियार से हमला

मैसेजिंग सेवा व्हाट्सऐप पर एक समूह से एक युवक को हटाने पर उसके ‘ एडमिन ’ पर हमला किया गया।

Author May 22, 2018 7:15 PM
वॉट्सऐप का उपयोग करते यूजर्स (REUTERS फोटो)

मैसेजिंग सेवा व्हाट्सऐप पर एक समूह से एक युवक को हटाने पर उसके ‘ एडमिन ’ पर हमला किया गया। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि महाराष्ट्र के अहमदनगर के रहने वाले चैतन्य शिवाजी भोर (18) पर तीन लोगों ने एक धारदार हथियार से हमला किया। पुलिस ने बताया कि घटना 17 मई की रात को अहमदनगर – मनमाड सड़क पर हुई।  अहमदनगर के एक कृषि कॉलेज में पढ़ने वाले चैतन्य ने व्हाट्सऐप पर एक समूह बनाया था और कॉलेज के दूसरे छात्र उसके सदस्य थे।

पुलिस ने बताया कि चैतन्य ने हाल में सचिन गडाख को कॉलेज छोड़ने पर समूह से हटा दिया जिससे नाराज सचिन ने इस ‘‘ अपमान ’’ का बदला लेने की ठानी। 17 मई को सचिन के दोस्त अमोल गडाख और दो अन्य एक भोजनालय में गए जहां चैतन्य खाना खा रहा था और उसपर हमला किया।  अमोल ने चैतन्य के पेट , मुंह और पीठ पर धारदार हथियार से वार किया।

नेवासा तहसील के सोनई गांव के रहने वाले हमलावर चैतन्य पर हमला करने के बाद वहां से फरार हो गए। हमले में गंभीर रूप से घायल हुए चैतन्य को पास के एक अस्पताल ले जाया गया और बाद में पुणे के अस्पताल भेज दिया गया। अहमदनगर के एमआईडीसी पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक विनोद चव्हाण ने बताया कि चैतन्य के शिकायत दायर करने के बाद सचिन , अमोल और दो अन्य के खिलाफ आईपीसी की धारा 307 और शस्त्र अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App