WhatsApp से सुप्रीम कोर्ट ने कहा, लोगों की प्राइवेसी की कीमत 3 ट्रिलियन से ज्यादा

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को व्हाट्सएप को फटकार लगाई। कोर्ट ने फेसबुक और व्हाट्सएप से कहा कि आप 2 या 3 ट्रिलियन की कंपनी होंगे मगर लोगों की प्राइवेसी सबसे जरूरी है।

Whatsapp new privacy policy, whatsapp, Facebook, Supreme Court, SC notice to Facebook,सुप्रीम कोर्ट ने व्हाट्सएप से कहा, निजता पैसों से ज्यादा जरूरी। यह फोटो प्रतीकात्मक है। (फोटोः द इंडियन एक्सप्रेस)

WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी पर चल रहे विवाद के बीच सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को व्हाट्सएप को फटकार लगाई। कोर्ट ने फेसबुक और व्हाट्सएप से कहा कि आप 2 या 3 ट्रिलियन की कंपनी होंगे। मगर लोग अपनी निजता की कीमत इससे ज्यादा मानते हैं और उन्हें ऐसा मानने का हक है।

चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (CJI) ने Facebook और WhatsApp को नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर नोटिस जारी किया है। इस नोटिस में कहा कि यूजर की प्राइवेसी को सुरक्षित रखा जाना जरूरी है। सुप्रीम कोर्ट के नोटिस के जवाब में फेसबुक और व्हाट्सएप को यह बात साफ करनी होगी कि यूजर्स का किस तरह का डेटा शेयर किया जा रहा है और किस तरह का डेटा शेयर नहीं किया जा रहा।

सुप्रीम कोर्ट ने प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर यूरोप और भारत में अलग अलग पैमानों को लेकर भी नाराजगी जताई है। इस मामले की अगली सुनवाई अब चार सप्ताह के बाद होगी।

व्हाट्सएप की लोकप्रयिता घट रही है
व्हाट्सएप (WhatsApp) की नई प्राइवेसी पॉलिसी का ऐलान 5 जनवरी को किया गया था, उसके बाद से कई लोगों ने सोशल मीडिया पर इसके खिलाफ गुस्सा जाहिर किया। साथ ही तब से लेकर अब तक दूसरे इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप जैसे टेलीग्राम और सिग्नल ऐप की लोकप्रियता में इजाफा हुआ है और व्हाट्सएप की लोकप्रयिता पर भी अंकुश लगा है।

व्हाट्सएप राइट टू प्राइवेसी के उल्लंघन का आरोप
WhatsApp पर नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर भारतीय नागरिकों के ‘राइट टू प्राइवेसी’ के अधिकार का उल्लंघन करने का आरोप लग रहा है। अभी Whatsapp ने New Privacy Policy को 15 मई 2021 तक के लिए टाल दिया है।

Next Stories
1 सम-सामयिक,फास्टैग : किन गाड़ियों के लिए जरूरी, किन को मिलेगी छूट
2 शोध: स्मार्टफोन से दिमाग को नियंत्रित करने की कवायद
3 13,000 रुपये से कम में पाएं 6GB रैम और 128GB इंटरनल स्टोरेज वाले स्मार्टफोन, इनमें है स्ट्रांग बैटरी
यह पढ़ा क्या?
X