Airtel ने प्रीपेड पैक्स के लिए 25% तक टैरिफ बढ़ाने का किया ऐलान, पर डाउनलोडिंग और अपलोडिंग स्पीड में Jio और VI से पीछे

सुनील मित्तल की भारती एयरटेल के समक्ष नेट स्पीड अभी भी बड़ी चिंता का विषय बना हुआ है। कंपनी अपने प्रतिद्वंदियों से हाल-फिलहाल के कुछ माह में पीछे रही है।

महंगाई की मार मोबाइल टैरिफ प्लान्स पर भी पड़ी है। पहले भारती एयरटेल और फिर वोडाफोन आइंडिया (वीआई) ने अपनी नई प्रीपेड दरें लागू करने से जुड़े ऐलान किए हैं। एयरटेल और वीआई की लागू होने वाली नई दरों में पैक्स पर 500 रुपए तक का इजाफा किया गया है। पर तीनों कंपनियों की इंटरनेट डाउनलोडिंग और अपलोडिंग स्पीड पर गौर करें तो जिस कंपनी ने सबसे पहले दाम बढ़ाने से जुड़ी घोषणा की, वही इस मामले में सबसे पीछे है।

दरअसल, मंगलवार (23 नवंबर, 2021) को वीआई ने टैरिफ प्लान्स के दाम बढ़ाने से जुड़ा ऐलान किया। कहा कि नए टैरिफ प्लान्स 25 नवंबर, 2021 से लागू हो जाएंगे, जबकि ठीक एक दिन पहले यानी कि 22 नवंबर को एयरटेल ने भी अपने प्रीपेड पैक्स के लिए 25% तक टैरिफ बढ़ाने से जुड़ी घोषणा की थी। माना जा रहा है कि टेलीकॉम क्षेत्र में गलाकाट प्रतियोगिता के दौर के बीच मुकेश अंबानी की आरआईएल की जियो भी अपने टैरिफ के दाम में इजाफा कर सकती है।

बहरहाल, यह तो हो गई रकम बढ़ाने से जुड़ी बात, पर यह भी जानना जरूरी है कि कौन सी कंपनी की 4जी स्पीड के मामले में क्या हालत है। डाउनलोड स्पीड की बात करें तो अंबानी की जियो की सितंबर में 20.9 एमबीपीएस स्पीड थी, जो कि अक्टूबर में 21.9 एमबीपीएस रही। वीआई इस मामले में सितंबर में 14.4 एमबीपीएस पर था, जबकि अक्टूबर में यह आंकड़ा बढ़कर 15.6 एमबीपीएस हो गया। एयरटेल यहां सबसे पीछे रही और सितंबर में उसकी डाउनलोड स्पीड 11.9 एमबीपीएस थी, जबकि अक्टूबर में इसे 13.2 दर्ज किया गया।

अब बात आती है अपलोड स्पीड की, तो वीआई इस मामले में सबसे बेहतर स्थिति में नजर आई। दोनों महीनों की तुलना के बाद पता चला कि वीआई की अपलोड स्पीड सितंबर में 7.2 एमबीपीएस थी, जबकि अक्टूबर में इसे 7.6 एमबीपीएस पाया गया। जियो की सितंबर में 6.2 एमबीपीएस थी, जो अक्टूबर में 6.4 एमबीपीएस पाई गई और एयरटेल की सितंबर में 4.5 एमबीपीएस थी, जिसे अक्टूबर में 5.2 पाया गया। इंडस्ट्री से जुड़े जानकारों की मानें तो सुनील मित्तल की भारती एयरटेल के समक्ष नेट स्पीड अभी भी बड़ी चिंता का विषय बना हुआ है। कंपनी अपने प्रतिद्वंदियों से हाल-फिलहाल के कुछ माह में पीछे रही है।

पढें टेक्नोलॉजी समाचार (Technology News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट