ताज़ा खबर
 

अपने स्मार्टफोन को आग लगने से बचाना है तो अपनाएं यह तरीका

फोन में आग लगने का सीधा संबंध फोन की लिथियम आयन बैटरी से होता है। लिथियम एक ऐसा रासायनिक पदार्थ होता है, जो आसानी से आग पकड़ लेता है।

इन दिनों बैटरी फटने की कई घटनाओं के कारण सैमसंग गैलेक्सी नोट 7 स्मार्टफोन काफी सुर्खियों में है।

आजकल सैमसंग गैलेक्सी नोट 7 स्मार्टफोन विस्फोट और आग लगने की खबरों के कारण काफी सुर्खियों में है। ऐसी घटनाओं से फोन तो खराब होता ही है, इससे जान-माल के नुकसान का भी खतरा बना रहता है। स्मार्टफोन में आग लगने की कई घटनाएं आपने पढ़ी होंगी, मगर क्या आपको इसकी वजह पता है? दरअसल फोन में आग लगने का सीधा संबंध फोन की लिथियम आयन बैटरी से होता है। लिथियम एक ऐसा रासायनिक पदार्थ होता है, जो पानी या ऑक्सिजन के संपर्क में आते ही आग पकड़ लेता है।

इसलिए लगती है आग-
आजकल स्मार्टफोन में जो बैटरी आ रही हैं वह चार्ज पूरा हो जाने के बाद उनकी चार्जिंग बंद हो जाती है। चार्जर से कनेक्टेड होने पर भी बैटरी पर कोई असर नहीं पड़ता है। मगर यदि आपके फोन की बैटरी में जरा सी भी खराबी है तब ऐसा नहीं होता। ज्यादा देर चार्जिंग पर लगाने से इनके अंदर का तापमान बढ़ जाता है। जिससे एक रिएक्शन की तरह बन जाता है और बैटरी में आग लग जाती है।

बचने के उपाय-
– कभी भी स्मार्टफोन को कई घंटों तक चार्जिंग पर लगाकर ना छोड़ें। कई यूजर्स पूरी रात के लिए फोन को चार्जिंग पर लगा छोड़ देते हैं, यह खतरनाक हो सकता है।
– फोन में सस्ती या किसी दूसरी कंपनी की बैटरी का इस्तेमाल ना करें।
– अगर स्मार्टफोन गर्म हो जाए तो उसकी चार्जिंग को तुरंत बंद कर दीजिए।
– अगर चार्जिंग के दौरान आपका फोन अक्सर हीटिंग समस्या पैदा करता है तो बेहतर होगा उसे कवर में ना रखें। इससे चार्जिंग के दौरान उसे ठंडा होने में सहायता मिलेगी।
– स्मार्टफोन हमेशा साथ मिलने वाले ब्रांडेड चार्जर से ही चार्ज करें। सस्ते चार्जर से बैटरी पर असर पड़ सकता है।
– ज्यादा तापमान वाली जगह या सूरज की रौशनी में चार्जिंग खतरनाक हो सकती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App