ताज़ा खबर
 

यूजर्स की कॉल डीटेल्स विदेश भेज कर पैसे कमा रही रिलायंस Jio: हैकर ग्रुप

हैकर्स ग्रुप Anonymous India ने बताया कि रिलायंस जियो कुछ भी मुफ्त में नहीं दे रही, बल्कि यूजर के डेटा को विदेश में भेजकर पैसे बना रही है।
ग्रुप ने जानकारी दी कि My Jio और Jio Dialer ही वो ऐप्स हैं जिनके जरिए डेटा भेजा रहा रहा है।

पिछले कुछ महीनों से रिलायंस जियो अच्छे और बुरे दोनों तरह के कारणों से चर्चाओं में बनी हुई है। लेकिन इस बार का मामला काफी गंभीर नजर आ रहा है। रिलायंस जियो पर आरोप लगे हैं कि कंपनी अपने यूजर्स की कॉल डिटेल विदेश भेज रही है। यह आरोप विवादित हैकर्स ग्रुप Anonymous India ने लगाए हैं। इतना ही नहीं ग्रुप ने इस संबंध में कुछ सबूत भी पेश किए हैं।

हैकर ग्रुप एनॉनिमस इंडिया (@redteamin) ने दावा किया है कि रिलायंस जियो सिंगापुर और अमेरिका की कंपनियों में डेटा भेज रही है। ग्रुप ने इसके लिए एक तरीका भी जारी किया है जिसमें दिए गए स्टेप्स को फॉलो करके कोई भी इस बात की पुष्टि सकता है। ग्रुप ने मीडिया को यह भी जानकारी दी कि My Jio और Jio Dialer ही वो ऐप्स हैं जिनके जरिए डेटा भेजा रहा रहा है। हालांकि ग्रुप ने साफ कर दिया कि जो डेटा इन कंपनियों को भेजा जा रहा है वह encrypted है। यानी इस डेटा को चुराने की संभावनाएं बेदह कम हैं।

एनोनिमस इंडिया ने इस संबंध में एक ट्वीट किया है, जिसके जरिए यह बताने की कोशिश की जा रही है कुछ भी फ्री नहीं है और इसके लिए रिलायंस जियो यूजर के डेटा को विदेश में बिक्री कर रही है। इस ग्रुप की वेबसाइट https://anonymousindia.tumblr.com/ पर एक पोस्ट की गई है। पोस्ट में लिखा गया है, “रिलायंस जियो एक साल बाद भी आपके कॉल की जानकारी दूसरे देशों के साथ शेयर कर रही है।” वेबसाइट के मुताबिक उन्होंने एक साल पहले भी रिलायंस जियो के बारे में खुलासा किया था कि कंपनी यूजर का लोकेशन डेटा चीन के साथ शेयर कर रही है।

Read Also: Reliance Jio SIM लेने वालों को झेलनी पड़ रहीं ये पांच मुसीबतें

हैकर्स ग्रुप की वेबसाइट पर दिया गया सबूत। (Photo: Anonymous India) हैकर्स ग्रुप की वेबसाइट पर दिया गया सबूत। (Photo: Anonymous India)

हालांकि इन आरापों के जवाब में जियो इंफोकॉम ने बताया, “जियो अपने ग्राहकों की सिक्योरिटी और प्राइवेसी को काफी गंभीरता से लेती है। नियंत्रण के उच्चतम मानकों को ध्यान में रखते हुए कंपनी ग्राहकों का डेटा किसी भी और संस्था से साझा नहीं करती। जियो जो भी जानकारी लेती है वह बेहतर सर्विस और ऑफर देने के उद्देश्य से कंपनी केवल इंटरनल एनालिसिस के लिए ली जाती है।”

यहां देखें वीडियो-

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App