ताज़ा खबर
 

इन चार बातों में धीरज रखेंगे तो स्‍लो नहीं होगा आपका स्‍मार्टफोन, जानिए कैसे

कंपनी द्वारा जारी किए गए अपडेट को तुरंत इंस्टॉल न करें। साथ ही यह भी देख लें कि आपके फोन का हार्डवेयर उस अपडेट के लिए तैयार है या नहीं। अपडेट आने के बाद उसे इंस्टॉल करने से पहले एक बार उसके बारे में रिव्यू जरूर पढ़ लें।

प्रतीकात्मक तस्वीर।

स्मार्टफोन पुराना होता जाता है तो वह स्लो होता जाता है। अाज हम आपको कुछ ऐसे ही टिप्स बताने जा रहे हैं जिससे कि आप अपने स्मार्टफोन को स्लो होने से बचा सकते हैं। इसमें पहले नंबर पर आता है सॉफ्टवेयर अपडेट। कई बार जब कंपनी ऑपरेटिंग सिस्टम के अपडेट्स जारी करती है तो हम अपना फोन अपडेट कर लेते हैं। जब भी हम फोन को लोअर वर्जन से हायर में अपडेट करते हैं तो देखा जाता है कि फोन की पर्फोरमेंस पर फर्क पड़ता है। इसलिए कंपनी द्वारा जारी किए गए अपडेट को तुरंत इंस्टॉल न करें। साथ ही यह भी देख लें कि आपके फोन का हार्डवेयर उस अपडेट के लिए तैयार है या नहीं। अपडेट आने के बाद उसे इंस्टॉल करने से पहले एक बार उसके बारे में रिव्यू जरूर पढ़ लें। अपडेट्स कंपनी द्वारा जारी करने के तुरंत बाद ही इंस्टॉल न करें।

ऐप अपडेट: जब आप फोन में प्ले स्टोर से कोई ऐप इंस्टॉल करते हैं तो उसके भी अपडेट्स मिलते रहते हैं। ऐप के नए अपडेट इंस्टॉल करने से पहले यह देख लें कि उसमें क्या-क्या नए फीचर्स जुड़े हैं। जरूरी नहीं है कि यह अपडेट्स आपके फोन के मुताबिक ही डिवेलप किए हों। अपडेट अगर आपके काम के नहीं हैं तो अपडेट न करें। इससे फोन की मैमोरी भी बचेगी और फोन जैसा चल रहा है वैसा ही चलता रहेगा। अपडेट को ऑटोमेटिक इंस्टॉल पर न रखें।

जंक फाइल: हम ट्राइ करने के लिए अपने फोन में कई ऐप्स इंस्टॉल कर लेते हैं  और फिर अनइंस्टॉल भी कर देते हैं। अनइंस्टॉल करने के बाद ऐप पूरे तरीके से आपके फोन से नहीं जाती है। उसके कुछ फोल्डर्स या फाइल्स फोन में रह जाती हैं। धीरे-धीरे यह फोन में इकट्ठी हो जाती हैं और काफी स्पेस घेर लेती है। इससे फोन की स्पीड स्लो हो जाती है। अगर ऐप आपके काम का नहीं है तो ट्राई करने के लिए इंस्टॉल न करें।

फाइल सिस्टम: जब आप अपने फोन को यूज करते हैं तो उसमें डेटा सेव करते रहते हैं। जब डेटा ज्यादा होने लगता है तो इससे फोन की स्पीड स्लो होने लगती है। मैमोरी धीरे-धीरे भरने लगती है तो फोन की स्पीड स्लो होने लगती है। इसलिए फोन का महीने में एक बार बैकअप लेकर उसे खाली करते रहें। अगर मुमकिन हो सके तो 2-3 महीने में एक बार फेक्ट्री रीसेट कर लें। फेक्ट्री रीसेट करने के बाद सिर्फ वही ऐप्स फोन में रखे जिनका आपको यूज करना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App