ताज़ा खबर
 

इन 3 कारणों से रिलायंस जियो को 3 महीने और बढ़ानी पड़ी फ्री सर्विस

31 मार्च 2017 तक जियो ग्राहकों की वॉयस और वीडियो कॉलिंग, 4जी डेटा, एसएमएस और जियो ऐप्स जैसी सुविधाएं मुफ्त रहेंगी।
31 दिसंबर को कंपनी का जियो वेलकम ऑफर खत्म हो रहा था। (Photo: PTI)

रिलायंस जियो ने 31 दिसंबर को खत्म हो रहे अपने फ्री ऑफर को तीन और महीने के लिए बढ़ा दिया है। नए ऑफर का नाम “जियो हैप्पी न्यू ऑफर” है, जिसमें 31 मार्च 2017 तक जियो ग्राहकों की वॉयस और वीडियो कॉलिंग, 4जी डेटा, एसएमएस और जियो ऐप्स जैसी सुविधाएं मुफ्त रहेंगी। जानिए आखिर जियों ने क्यों बढ़ाया ऑफर

1. सर्विस क्वालिटी: रिलायंस जियो के ग्राहकों की डेटा स्पीड तो कम हो ही रही है, साथ ही इसमें वॉयस कॉलिंग की समस्या भी लगातार बनी हुई है। नवंबर माह में एक रिपोर्ट के मुताबिक, “जियो ग्राहकों ने शिकायत है कि पिछले तीन महीने में उनकी डेटा स्पीड 70-80 फीसदी तक कम हुई है।” इसके अलावा, रिलायंस जियो का एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया जैसी कंपनियो के साथ चल रहे प्वाइंट्स ऑफ इंटरकनेक्ट के चलते जियो यूजर्स को कॉल ड्रॉप की समस्या हो रही है। साथ ही जियो के नबंर से जियो पर फोन तुरंत मिल जाता है लेकिन दूसरे नेटवर्क पर कॉल नहीं लगती है। ऐसे में इस अतिरिक्‍त समय में जियो अपने यूजर्स को संतुष्ट करने की भी पूरी कोशिश कर सकती है।

2. सेकेंड सिम सिंड्रोम: रिलायंस जियो ने करीब तीन महीने से भी कम समय में 50 करोड़ यूजर्स को अपने साथ जोड़ा है। हालांकि आंकड़े बताते हैं कि जियो सेकेंड सिम बनकर रह गया है। यानी जियो एयरटेल या अन्य किसी भी दूसरी टेलिकॉम कंपनी के ग्राहक छीनने में नाकाम रही है। 21 नवंबर को आई एक रिपोर्ट के मुताबिक, “जियो के फ्री ऑफर का असर बाजार की दूसरी कंपनियों पर पड़ता नहीं दिख रहा है। एयरटेल/वोडाफोन/आइडिया का अक्टूबर का मुनाफे पिछले छह महीने की तुलना में ज्यादा था।” एक विशेषज्ञ के मुताबिक, “जियो के अधिकतर यूजर्स वो हैं जो सिर्फ फ्री डेटा की सर्विस के लिए कंपनी के साथ जुड़े हैं।” कंपनी इन ग्राहकों को भी पक्का करना चाहेगी।

3. रिलायंस लाइफ की विफलता: रिलायंस ने जब जियो लॉन्च किया तो उसकी योजना में रिलायंस लाइप 4-जी स्मार्टफोन की अहम भूमिका थी लेकिन उपभोक्ताओं ने रिलायंस के इस फोन के प्रति अधिक उत्साह नहीं दिखाया। रिलायंस ने जियो सिम लॉन्च करने से पहले ही बाजार में 10 हजार रुपये से कम मूल्य के रिलायंस लाइफ फोन उतारे थे। रिलायंस को उम्मीद थी कि जियो लॉन्चिंग के बाद उसके लाइफ फोन की मांग और बढ़ जाएगी। इसके मद्देनजर रिलायंस ने बड़ी संख्या लाइफ फोन का आयात कर लिया था। रिलायंस की ये योजना विफल रही। मोतीलाल ओसवाल के अनुसार रिलायंस जियो को मौजूदा ग्राहकों में  80-85 प्रतिशत गैर-लाइफ फोन पर इसका इस्तेमाल कर रहे हैं।

रिलायंस जियो: मुकेश अंबानी का ऐलान- 31 मार्च तक मिलेगा फ्री डाटा, कॉलिंग और सर्विसेज

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.