How to use Reliance jio services on Vodafone, Airtel, Idea number: know all details about this there in hindi - JIO के अनलिमिटेड इंटरनेट का दूसरी कंपनियों के यूजर बिना नंबर बदले ऐसे ले सकते हैं मजा - Jansatta
ताज़ा खबर
 

JIO के अनलिमिटेड इंटरनेट का दूसरी कंपनियों के यूजर बिना नंबर बदले ऐसे ले सकते हैं मजा

JIO: पुराने नंबर पर जियो की सेवाएं शुरू होने में 7 दिन तक का वक्त लग सकता है।

पोर्ट करवाने के दौरान संभव है कि आपका नंबर दो-तीन घंटे के लिए काम न करे।

रिलायंस जियो लगातार अपने यूजर्स के लिए नए नए ऑफर लेकर आ रही है। अगर आप रिलायंस जियो की सेवाओं का मजा लेना चाहते हैं तो ले सकते हैं। आप अपना मोबाइल नंबर बिना बदले रिलायंस जियो की सर्विसेज का फायदा उठा सकते हैं। इसके लिए आपको सिर्फ एक छोटा सा काम करना होगा। इसके लिए आपको मोबाइल नंबर पोर्टिब्लिटी (MNP) का इस्तेमाल करना होगा। इसकी मदद से यूजर कंपनी या जगह बदलने के बावजूद भी अपने पुराने नंबर को चालू रख सकते हैं। एमएनपी सेवा की मदद से देशभर के किसी भी कंपनी के यूजर किसी भी कंपनी को चुन सकते हैं। इससे आप अपना नंबर बिना बदले जियो की सर्विस का मजा ले सकते हैं।

ऐसे कराएं MNP: सबसे पहले आपको अपने मौजूदा टेलीकॉम ऑपरेटर को नंबर पोर्ट आउट करने की जानकारी देनी होगी। इसके लिए आपको PORT लिखकर 1900 पर मैसेज करना होगा। इसके जवाब में आपको 1901 नंबर से यूनीक पोर्टिंग कोड मिलेगा। इसकी वैधता 15 दिन की होगी। अब किसी रिलायंस मोबाइल स्टोर या रिटेलर के पास जाएं। यहां पर कस्टमर एप्लिकेशन फॉर्म भरने के दौरान आपको पोर्टिंग कोड भी डालना होगा। इसके साथ ज़रूरी कागज़ात (आईडी प्रूफ, एड्रेस प्रूफ और एक पासपोर्ट फोटो) जमा करवाएं।

इसके जवाब में आपको रिलायंस की ओर से एक रिलायंस जियो सिम कार्ड दिया जाएगा। एक्टिवेट होने के बाद यह सिम भी आपके पुराने नंबर का इस्तेमाल करेगा और आपका पुराना सिम हमेशा के लिए बंद हो जाएगा।

रिलायंस जियो सिम को एक्टिवेट होने में 7 दिन का वक्त लग सकता है। पोर्ट करवाने के दौरान संभव है कि आपका नंबर दो-तीन घंटे के लिए काम न करे। ऐसा रिलायंस जियो सिम एक्टिवेट होने से पहले होगा। ध्यान रहे कि नंबर पोर्ट करवाने के 90 दिनों तक आप किसी और टेलीकॉम ऑपरेटर में फिर से उसी नंबर को पोर्ट नहीं करा सकते।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App