ताज़ा खबर
 

सातवें वेतन आयोग का लालच देकर भारतीय कर्मचारियों का डाटा चुरा रहा है पाकिस्‍तान: रिपोर्ट

साइबर सिक्‍योरिटी फर्म फायरआई ने दावा किया है कि पाकिस्‍तान से एक ग्रुप फर्जी न्‍यूज वेबसाइट के जरिए भारतीय सरकारी अधिकारियों को फिशिंग मेल भेज रहा है।

Author नई दिल्‍ली | Published on: June 3, 2016 3:59 PM
साइबर सिक्‍योरिटी फर्म फायरआई ने दावा किया है कि पाकिस्‍तान से एक ग्रुप फर्जी न्‍यूज वेबसाइट के जरिए भारतीय सरकारी अधिकारियों को फिशिंग मेल भेज रहा है।

साइबर सिक्‍योरिटी फर्म फायरआई ने दावा किया है कि पाकिस्‍तान से एक ग्रुप फर्जी न्‍यूज वेबसाइट के जरिए भारतीय सरकारी अधिकारियों को फिशिंग मेल भेज रहा है। कंपनी की ओर से पोस्‍ट किए गए ब्‍लॉग में लिखा है, ”18 मई 2016 को ग्रुप ने एक फेक न्‍यूज वेबसाइट बनाई और भारतीय सरकारी अधिकारियों को फिशिंग ईमेल भेजे। ईमेल्‍स में भारत सरकार के सातवें वेतन आयोग का रेफरेंस दिया गया।” बता दें कि पिछले दिनों ही कैस्‍परस्‍काई ने दावा किया था कि भारत सरकार की साइटों को साइबर जासूसी ग्रुप नले प्रभावित किया।

फायरआई के एशिया पैसेफिक के चीफ टेक्‍नोलॉजी ऑफिसर ब्रायस बोलेंड ने बताया, ”एडवांस्‍ड साइबर हमलों को रोकने के लिए कोई विेशेष हथियार नहीं है। इस तरह के हमलों का सामना करने के लिए और त्‍वरित पहचान के लिए भारतीय संगठनों को साथ आकर तकनीक, विशेषज्ञता और चेतावनियों के प्रति बुद्धिमत्‍ता की जरूरत है।” कंपनी का दावा है कि सरकारी अधिकारियों को timesofindiaa.in साइट से मेल भेजे जा रहे हैं। इन मेल्‍स में खतरनाक माइक्रोसॉफ्ट वर्ड डॉक्‍यूमेंट फाइल्‍ अटैच होती है। मेल के जरिए इस फाइल को खोलने को कहा जाता है।

फायरआई का कहना है कि इस फाइल पर क्लिक करने पर कंप्यूटर में कई तरह के नए प्रोग्राम चलने लग जाते हैं और कंप्‍यूटर से डाटा अपलोड कर लिया जाता है। यह पाकिस्‍तानी ग्रुप कई सालों से एक्टिव है। फायरआई का दावा है कि यह लंबे समय से दक्षिण एशियाई राजनीति और सेनाओं को निशाना बना रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
जस्‍ट नाउ
X