scorecardresearch

Royal Enfield की तरह Jawa बाइक के साथ मिलता है RSA, जानें- क्या-क्या चीजें होती हैं इसके तहत कवर?

कंपनी की वेबसाइट के मुताबिक, इस प्रोग्राम के तहत देशभर में फैली 950 लोकेशंस तक सर्विस दी जाती है। यह सेवा साल में किसी भी दिन और किसी भी वक्त हासिल की जा सकती है।

JAWA Bikes, Utility News, Tech News
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः facebook.com/jawamotorcycles)

रॉयल एनफील्ड (Royal Enfield) की तरह जावा मोटरसाइकिल्स (Jawa Motorcycles) भी रोड साइड असिस्टेंस (Road Side Assistance) मुहैया कराती है। कंपनी इस प्रोग्राम के तहत कठिन हालात में आपको मदद मिल जाती है। खासकर तब, जब आप हाईवे, दुर्गम रास्तों या कहीं और होते हैं और उसी दौरान अचानक आपकी बाइक खराब हो जाती है। इस दौरान आरएसए बड़े काम आता है और कंपनी की ओर से मदद मुहैया कराई जाती है।

जावा का दावा है कि उसके आरएसए के तहत कई तरह के बेनेफिट्स मिलते हैं। मसलन कस्टमर अपनी मोटरसाइकिल को ‘ऑन द डॉट’ और ‘ऑन द स्पॉट’ पर सही करा सकता है। कंपनी की वेबसाइट के मुताबिक, इस प्रोग्राम के तहत देशभर में फैली 950 लोकेशंस तक सर्विस दी जाती है। यह सेवा साल में किसी भी दिन और किसी भी वक्त हासिल की जा सकती है। नजदीकी डीलरशिप से 100 किमी तक कवरेज के साथ टोल फ्री नंबर पर कॉल कर के यूजर मदद मांग सकता है।

आरएसए प्रोग्राम की कीमत 1050 रुपए से शुरू होती है। हालांकि, बेसिक प्रोग्राम के तहत कवरेज एरिया 100 किलोमीटर तक ही है। यानी इस प्लान में आपको मदद इसी दायरे में सहायता मिलेगी। टोली फ्री एक्सेस के अलावा बेसिक प्रोग्राम में रोडसाइड रिपेयर, पेट्रोल संबंधी मदद, जावा वर्कशॉप तक बाइक सुरक्षित ले जाने, चाभी खो जाने, हाइड्रा/क्रेन सेवा, टैक्सी बेनेफिट, अर्जेन्ट मैसेज रिले और मेडिकल कॉर्डिनेशन सरीखे बेनेफिट्स भी मिलते हैं।

रॉयल एनफील्ड के रोड साइड असिस्टेंस प्रोग्राम में संबंधित सेवाएं उनकी साझेदार कंपनी यूरोप असिस्टेंस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड (Europ Assistance India Pvt. Ltd.) मुहैया कराती है। कंपनी के टोल फ्री नंबर 1800 2100 007 पर कॉल कर के मदद पाई जा सकती है।

बता दें कि रोड साइड असिस्टेंस एक किस्म की 24×7 आपातकालीन सहायता है, जो बाइक में किसी भी मकैनिकल या इलेक्ट्रिक ब्रेकडाउन या यूजर की मोटरसाइकिल की यातायात दुर्घटना की स्थिति में (कहीं भी राष्ट्रीय राजमार्गों, राज्य राजमार्गों या मुख्य भूमि भारत के भीतर मोटर योग्य सड़कों पर और उपयोगकर्ता के घर पर और/या) दी जाती है।

पढें टेक्नोलॉजी (Technology News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X