ताज़ा खबर
 

IRCTC, Indian Railways ने लॉकडाउन में तैयार कीं 15 ट्रेनें: क्या सबको किया जाएगा क्वारंटाइन? जानें राज्य सरकारों की तैयारी

IRCTC Special Trains: 12 मई यानी आज से कुछ स्पेशल यात्री ट्रेनें एक बार फिर पटरी पर दौड़ती नज़र आएंगी। बता दें कि राज्यों ने भी कमर कस ली है।

IRCTC Special Trains List, Ticket Booking Online

IRCTC Trains: आज से एक बार फिर कुछ यात्री ट्रेनें पटरी पर दौड़ती नज़र आएंगी, भारतीय रेलवे ने 15 शहरों के लिए स्पेशल ट्रेनें का परिचालन शुरू करने जा रही है। लेकिन एक बात जो गौर करने वाली है वह यह है कि गंतव्य राज्यों में पहुंचने के बाद यात्रियों को प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। आइए जानते हैं कि अलग-अलग राज्यों में इसे लेकर क्या-क्या तैयारियां की गई हैं।

महाराष्ट्र: बृहन्मुंबई महानगरपालिका ने अभी तक उन यात्रियों के लिए प्रोटोकॉल को फाइनल नहीं किया है जो बुधवार को मुंबई में उतरेंगे। बीएमसी के एडिशनल म्युनिसिपल कमिश्नर सुरेश काकानी ने कहा अभी तक हमें मुंबई आने वाले रेल यात्रियों के लिए कोई व्यवस्था करने के संबंध में कोई निर्देश प्राप्त नहीं हुआ है। उन्होंने कहा ट्रेन के प्रस्थान से पहले सभी यात्री स्टेशन पर स्क्रीनिंग से गुजरते हैं।

यदि मुंबई में इन यात्रियों की स्क्रीनिंग की जरूरत है तो रेलवे इसका संचालन कर सकता है। बीएमसी आवश्यक सहायता प्रदान करेगा। रेलवे अधिकारियों का कहना है कि मंगलवार को मुंबई में यात्रियों के ट्रेन में चढ़ने से पहले लक्षणों की जांच की जाएगी।

पश्चिम बंगाल: बता दें कि ट्रेन में सफर करने वाले सभी यात्री रेलवे स्टेशन के बाहर मैडिकल चेक से गुजरेंगे। चिकित्सा अधिकारी शरीर के तापमान की जांच के लिए थर्मल गन का इस्तेमाल करेंगे और इसके बाद मैडिकल टीम पूरी जांच करेंगे।

यात्रियों को मास्क, खाना और सैनिटाइज़र उपलब्ध कराया जाएगा। जिन यात्रियों में कोई लक्षण नहीं है उन्हें 14 दिनों के लिए होम क्वारंटाइन में भेजा जाएगा तो वहीं दूसरी तरफ जिन लोगों में लक्षण मिलते हैं उन्हें क्वारंटाइन सेंटर भेजा जाएगा। सरकारी बसें सभी यात्रियों को संबंधित जिलों में उनके घरों तक पहुंचाएंगी।

बिहार: सरकार ने अभी तक इस बात की घोषणा नहीं की है कि क्या सभी यात्रियों को क्वारंटाइन सेंटर भेजा जाएगा। हालांकि, सभी प्रवासियों को क्वारंटाइन सेंटर भेजा जा रहा और टेस्ट किए जा रहे हैं।सीएम नीतीश कुमार ने सोमवार को कहा कि केंद्र को ट्रेन, बसों और अन्य माध्यमों के जरिए एक हफ्ते में अधिकतम लोगों की वापसी सुनिश्चित करनी चाहिए ताकि परीक्षण की रणनीति पर ध्यान केंद्रित किया जा सके।

केरल: केरल पहुंचने वाले सभी यात्री रेलवे स्टेशन पर थर्मल स्क्रीनिंग से गुजरेंगे, इसके बाद उन्हें उनके गृह जिलों में 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन रखा जाएगा। यात्रियों को पुलिस के साथ बसों और टेक्सी द्वारा वहां तक पहुंचाया जाएगा।

तमिलनाडु: राज्य सरकार ने फिलहाल आधिकारिक तौर पर स्टेशन पर उतरने वाले यात्रियों के लिए प्रोटोकॉल को जारी नहीं किया है। हालांकि, अधिकारियों का कहना है कि यात्रियों के आने के बाद मेडिकल स्क्रीनिंग की जाएगी और जिन लोगों में लक्षण दिखाई देंगे उनके लिए संस्थागत क्वारंटाइन की व्यवस्था की जाएगी।

झारखंड: रेड ज़ोन से आने वाले यात्रियों के सैंपल लिए जाएंगे और उनका परीक्षण एक प्राथमिकता होगी। ग्रीन और ऑरेंज जोन से आने वाले यात्रियों को होम क्वारंटाइन में भेजा जाएगा। राज्य परिवहन के सचिव रवि कुमार ने कहा कि यात्रियों के स्टेशन पर उतरने के बाद प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा।

Aarogya Setu COVID-19 App: कोरोना से लड़ने को बने आरोग्य सेतु ऐप पर नई गाइडलाइंस: 180 दिन में डेटा होगा डिलीट, यूजर्स भी डाल सकते हैं रिक्वेस्ट

IRCTC Special Trains Ticket Booking LIVE Updates: अगले 7 दिनों के लिए बुक हुए 45 हजार से ज्यादा रेल टिकट

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X