ताज़ा खबर
 

‘Shramik Special’ ट्रेनों पर MHA के महकमे में भम्र? पहले कहा- सूबों की गुजारिश पर प्वॉइंट-टू-प्वॉइंट चलेंगी गाड़ियां, फिर बोला- Indian Railways करेगा तय

IRCTC Railways Shramik Special Trains: केंद्रीय गृह मंत्रालय ने नए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर को जारी करते हुए कहा कि रेलवे इन ट्रेनों के गंतव्य और निर्धारित हाल्ट तय करेगा।

रेलवे जल्द ही स्टेशनों पर भी शुरू करेगा ट्रेनों की बुकिंग की सुविधा।

IRCTC Special Train Route, Schedule: केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मंगलवार को प्रवासियों के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाने के लिए नए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (SOP) को जारी करते हुए कहा कि रेलवे इन ट्रेनों के गंतव्य और निर्धारित हाल्ट तय करेगा। याद करा दें कि इससे पहले मंत्रालय द्वारा 1 मई को जारी एसओपी में कहा गया था कि ये स्पेशल ट्रेनें संबंधित राज्यों के अनुरोध पर प्वाइंट टू प्वाइंट चलाई जाएंगी।

इस प्रावधान को अब नए एसओपी के आने के बाद हटा दिया गया है। गृह मंत्रालय के कुछ अधिकारियों ने कहा कि मंगलवार को लिए फैसले से कंफ्यूजन पैदा होने की संभावना थी क्योंकि रिसीविंग राज्य को यात्रियों के लिए क्वारंटाइन सेंटर और परिवाहन की व्यवस्था करनी होती है।

मंगलवार को जारी SOP के अनुसार, रेल मंत्रालय गृह मंत्रालय के साथ परामर्श से श्रमिक स्पेशल ट्रेनों की आवाजाही की अनुमति देगा। नए गाइडलांइस में कहा गया है कि राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों की आवश्यकताओं के आधार पर, ट्रेन शेड्यूल जिसमें स्टॉपेज और गंतव्य स्टेशन शामिल है वह रेल मंत्रालय द्वारा फाइनल किया जाएगा।

इसके बाद रेल मंत्रालय राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के साथ यह जानकारी साझा करेगा ताकि फंस हुए मजदूरों के लिए उपयुक्त व्यवस्था की जा सके। 1 मई को जारी एसओपी में कहा गया था कि रिसीविंग स्टेट की सहमति ओरिजनेटिंग स्टेट द्वारा प्राप्त की जाएगी और ट्रेन के प्रस्थान से पहले रेलवे को इसकी एक कॉपी प्रदान की जाएगी।

19 मई को जारी SOP में कहा गया है कि ट्रेन शेड्यूल और टिकटों की बुकिंग का रेलवे द्वारा प्रचार किया जाएगा। साथ ही अन्य ऑपरेटिंग प्रोसीज़र जैसे कि बोर्डिंग से पहले यात्रियों की अनिवार्य स्क्रीनिंग, यात्रा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग और गंतव्य राज्य या केंद्र शासित प्रदेश द्वारा निर्धारित हेल्थ प्रोटोकॉल का पालन करेगा।

याद करा दें कि इनमें से कुछ दिशानिर्देश 1 मई को जारी एसओपी का भी हिस्सा थे। हाल ही में केंद्रीय गृह मंत्रालय के मुख्य सचिव अजय भल्ला ने राज्यों से कहा है कि श्रमिकों को अफवाहों के चलते परेशानी ना हो इसीलिए उन्हें ट्रेन और बसों के बारे में सही जानकारी दी जाए।

उन्होंने आगे कहा कि मंत्रालय ने राज्यों को कहा कि वह प्रवासियों को ले जाने के लिए बसों की संख्या बढ़ाएं, अंतरराज्यीय सीमाओं पर प्रवासियों को ले जाने वाली बसों के प्रवेश की अनुमति देने का भी निर्देश दिया था।

अजय भल्ला ने स्थानीय अधिकारियों से कहा की प्रवासियों के ठहरने के लिए जगह, भोजन और स्वास्थ्य, साफ-सफाई की जरूत को ध्यान में रखते हुए व्यवस्था करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इन प्रवासी मजदूरों में शामिल महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों की खास देखभाल की जाए।

IRCTC Trains Time Table, Ticket Booking LIVE Updates: रेलवे 1 जून से हर दिन चलाएगा 200 नॉन एसी ट्रेन, जल्द शुरू होगी बुकिंग

Realme Watch: लॉन्च से पहले कंफर्म हुए ये फीचर्स, कलर डिस्प्ले समेत मिलेंगे 14 स्पोर्ट्स मोड

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 Apple iPhone SE 2020 की पहली सेल आज Flipkart पर, ऐसे पाएं 3600 रुपये का डिस्काउंट
2 राजधानी ट्रेन के टिकट की अब 30 दिन पहले बुकिंग, जानें नए नियम
3 Realme Watch: लॉन्च से पहले कंफर्म हुए ये फीचर्स, कलर डिस्प्ले समेत मिलेंगे 14 स्पोर्ट्स मोड